इंटरनेट का आविष्कार किसने किया – Internet Ka Avishkar Kisne Kiya

इंटरनेट का ​अविष्कार किसने किया और कब हुआ (Internet Ka Avishkar Kisne Kiya), ये जानना बहुत जरूरी है। हर इंसान गूगल में ​कुछ न कुछ ज्ञान की बातें सर्च करता है, बोलने से सब कुछ होता है।

0
133
इंटरनेट का आविष्कार किसने किया
इंटरनेट का आविष्कार किसने किया

आज हम बिना डिजिटल दुनिया digital world के एक कदम नहीं चल सकते हैं। इंटरने के माध्यम से आज शिक्षा, चिकित्सा, ज्ञान व विज्ञान हर क्षेत्र के ज्ञान को हासिल किया जा रहा है। इंटरनेट का ​अविष्कार कब हुआ, ये जानना बहुत जरूरी है। हर इंसान गूगल में ​कुछ न कुछ ज्ञान की बातें सर्च करता है, बोलने से सब कुछ होता है। इंटरनेट की दुनिया में गुगल ऐसा सर्च इंजन google search  है जो आपको ज्ञान महासागर रूपी वेबसाइट तक आसानी से पहुंचता है।

इन्इंटरनेट का आविष्कार किसने किया

सबसे पहले इन्टरनेट का अविष्कार सेना ने अपने काम के लिए किया था। यह सूचना पहुंचाने का साधन था। 1969 में DOD (डिपार्टमेंट ऑफ़ डिफेन्स) द्वारा इस तकनी को विकसित किया था। अमेरिकी के रक्षा विभाग के द्वारा UCLA और स्टैनफोर्ड रिसर्च इंस्टीट्यूट कई कंप्यूटर्स की नेटवर्किंग करके इंटरनेट सिस्टम बनाया था। इस तकनीक के माध्यम से इनफार्मेशन एक कम्प्यूटर तक डिजिटल तरीके से पहुंचाया जाता था। यहां पर इन्टरनेट चलाने के लिए TCP (ट्रांसमिशन कण्ट्रोल प्रोटोकॉल) या IP (Internet Protocol) तकनीक का प्रयोग किया गया जो अब तक इसी एड्रेस में इंटरने वेबसाइट को सर्च किया जाता है। 1979 ब्रिटिश डाकघर का प्रथम International Computer Network बना कर नयी टेक्नोलॉजी का प्रयोग किय जाने लगा।

इंटरनेट तकनीक की बड़ी कंपनी ARPN (एडवांस रिसर्च प्रोजेक्ट इन एजेंसी) अपनी सेवा सन 1980 में लॉन्च किया। इसी समय 1980 में बिल गेट्स का आईबीएम के कंप्यूटर्स पर एक माइक्रोसॉफ्ट ऑपरेटिंग सिस्टम लगाने के लिए करार किया। दोस्तों आधुनिक कम्पयूटर का सही इस्तेमाल के लिए 1984 एप्पल ने प्रथम बार किया। एप्पल ने  फ़ाइलों और फ़ोल्डरों, ड्रॉप डाउन मेनू, माउस, ग्राफिक्स का इस्तेमाल किया जो नया आधुनिक तरीका था।

इंटरनेट नया तकनी फैक्ट

सबसे बेहतरीन इंटरनेट तकनीक का प्रयोग 1989 टिम बेर्नर ली ने इंटरनेट पर संचार ने किया। इसने ब्राउजर के पेज को सरल बनाने के पेज और लिंक को इस्तेमाल करके वर्ल्ड वाइड वेब बनाया।

1998 में गूगल लांच हुआ। यह सर्च इंजन है और इसने इंटरनेट की दुनिया में क्रांति ला दी।

इंटरनेट की हाईस्पीड क्रांति पैसे बचा सकती है

सबसे पहले आपको बता दें कि दुनिया में इंटरनेट की सबसे  महंगी सेवा तुर्केमेनिस्तान में है। यहां अनलिमिटेड इंटनेट प्रयोग करने के लिए डॉलर की दर से 2048 है। जो एक माह में 6,821.01 डॉलर तक पहुंच जाती है। सर्वाधिक सस्ती इंटरनेट सेवा 43.12 डॉलर हर महीने में उपयोकर्ता को 2 जीबी 64 केबीपीएस तक है।

जबकि रूस में हाई स्पीड अनलिमिटेड इंटरनेट लगभग 20 डॉलर प्रति माह है। अब एक रिपोर्ट की माने तो इंटरनेट की स्पीड तेज होने से एक परिवार 50 प्रतिशत पैसा बचा सकता है जो कि आज धीमी इंटरनेट सर्विस की वजह से खर्च हो जाता है।

सबसे तेज इन्टरनेट सेवा  दक्षिण कोरिया है। पूरी दुनिया में यहां पर इंटरनेट की औसत गति 2202 केबीपीएस है। सबसे अधिकर इंटरनेट प्रयोग करने वाला देश अमेरिका है।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

साधना अजबगजबजानकारी की एडिटर और Owner हूं। मैं हिंदी भाषा में रूचि रखती हूं। मैं अजब गजब जानकारी के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हूं | मुझे ज्यादा SEO के बारे में जानकारी तो नहीं थी लेकिन फिर भी मैने हार नहीं मानी और आज मेरा ब्लॉग अच्छे से काम कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here