आपके शरीर की प्रतिरक्षा में सुधार के लिए 5 सुझाव जो निश्चित रूप से आपको स्वस्थ बनाएंगे

0
89
Starting Regular Exercise
Starting Regular Exercise

किसी भी person के लिए उसका शरीर ही सबसे बड़ा आभूषण माना जाता है। यदि व्यक्ति का शरीर स्वस्थ है तो वो किसी भी परिस्थिति का सामना कर सकता है और अपने आप को फिट रख के कोई भी कार्य सफलतापूर्वक पूर्ण कर सकता है। परन्तु मानव शरीर के फिट रहने के लिए सबसे अधिक जरूरी है उसके immunity system यानि प्रतिरक्षा सिस्टम का ठीक होना। हर शरीर में व्हाइट ब्लड सेल्स जिन्हे हम श्वेत रक्त कोशिकाएं भी कहते है, जिसका मुख्य कार्य किसी भी प्रकार के संक्रमण से मुकाबला कर शरीर को नेचुरल कवच देने का होता है। यह हमारे इम्यून सिस्टम या प्रतिरक्षा प्रणाली का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

हम वर्तमान समय में एक ऐसे दौर में रह रहे है जहां हम pollution से घिरे हुए है, इन सब के अलावा हमारा खान पान भी भाग दौड़ की वजह से बहुत बिगड़ गया है। और साथ ही साथ हमारा स्ट्रेस लेवल हमेशा हाई रहता है। इस वजह से हमारा स्वास्थ तो बिगड़ता ही है और साथ ही साथ प्रतिरक्षा प्रणाली पर भी बुरा असर पड़ता है। खराब जलवायु और बाकी लोगो से बैक्टीरिया और वायरस के संक्रमण से इम्युनिटी सिस्टम बहुत weak (weakness meaning in Hindi is कमजोर होना) हो जाता है और काफी बार कुछ जेनेटिक कारणों की वजह से भी इसे काफी हानि पहुँचती है।

परन्तु अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली सुधारकर उसे बेहतर बनाना बहुत ही आवश्यक है। जितना बेहतर हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली होगी, उतना ही बेहतर हमारा स्वास्थ होगा और हम अपने आप को तंदुरस्त रख पाएंगे।

परन्तु अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली सुधारकर उसे बेहतर बनाना बहुत ही आवश्यक है। जितना बेहतर हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली होगी, उतना ही बेहतर हमारा स्वास्थ होगा और हम अपने आप को तंदुरस्त रख पाएंगे। यदि हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर पड़ जाती है तो हम जल्दी बीमार पड़ने लग जाएंगे और साथ ही साथ शरीर में बहुत थकावट आ जाएगी।

हम जानेंगे उन सुझावों के बारे में जिससे आपका इम्युनिटी सिस्टम बेहतर बनेगा और आप तंदुरस्त और फिट महसूस करेंगे।

1) प्रोटीन को पर्याप्त मात्रा में ले

आपके शरीर का स्वास्थ आपके खान पान पर सबसे ज्यादा निर्भर करता है। यदि आप अपने भोजन में पौष्टिक आहार लेते है तो आपका इम्युनिटी सिस्टम स्वयं ही बढ़िया रहेगा। जब आप संतुलित आहार लेना शुरू कर देते है, तो आपके बोन मेरो में पोषक तत्व पूरी मात्रा में पहुँच पाते है। Bone Marrow शरीर का वह पार्ट होता है, जिसमे व्हाइट ब्लड सेल्स बनते है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर बनाते है। दूध, अंडे, दाल, हरी सब्जियों में भरपूर मात्रा में प्रोटीन मिलता है।

2) नियमित व्यायाम करना शुरू करे

व्यायाम या एक्सरसाइज करना एक बहुत ही महत्वपूर्ण चीज है जो हर उम्र के व्यक्ति को अवश्य करना चाहिए। जब आप नियमित रूप से व्यायाम करना शुरू करते है तो आपके ह्रदय का सेहत बेहतर बना रहता है। इसके साथ साथ बहुत सारे क्रोनिक बीमारियों से भी आप बच जाते है। व्यायाम आपके शरीर में रक्त प्रवाह की मात्रा को बढ़ा देता है। व्यायाम के समय आप चलना, दौड़ना, तैराकी, योगा, खेल खेलना आदि कोई भी एक्टिविटी कर सकते है, जो आपको गतिशील बनाने में मदद करेगी। आपको प्रतिदिन प्रात: काल में 30 से 60 मिनट का समय निकाल कर व्यायाम करना है और बहुत ही थोड़े समय में आप अपने शरीर में परिवर्तन देखना चालु करेंगे।

Starting Regular Exercise
Starting Regular Exercise

3) धूम्रपान करना तुरंत ही छोड़े

धूम्रपान शरीर को सबसे अधिक हानि पहुँचाता है। नियमित रूप से धूम्रपान शरीर के लगभग हर अंग को नुक्सान पहुँचता है और हार्ट अटैक और कैंसर जैसे रोगों की possibility का बढ़ा देता है। इसके अलावा निकोटिन खून में हैमोग्लोबिन की जगह खुद को जोड़ देता है और कोशिकाओं में ऑक्सीजन की मात्रा को काम कर देता है। इससे प्रतिरक्षा प्रणाली पर बहुत बुरा असर होता है।

Quit smoking immediately
Quit smoking immediately

4) हाइजीन का ध्यान रखें

किसी भी संक्रमण या बीमारी से बचने का सबसे सरल उपाय है उसकी रोकथाम और इसके लिए हाइजेनिक रहना किसी भी व्यक्ति के लिए अनिवार्य है। पूरे दिन में आप बहुत सारी गंदगी, कीटाणु व बैक्टीरिया के संपर्क में आते है। इन सबसे बचने के लिए आवश्यक है की आप नियमित रूप से साबुन से अपने हाथ धोयें। रेस्टरूम से आने के पश्चात, कूकिंग करने से पहले और बाद में, खाना खाने से पहले हाथों का अच्छी तरह धोना बहुत जरूरी है। प्रतिदिन स्नान करना और दिन में 2 बार अपने दांत साफ़ करना भी हाइजेनिक प्रोसेस का पार्ट है।

5) तनाव दूर करें

यदि हम तनाव यानी स्ट्रेस की बात करे तो यह सिर्फ इंसान के भावत्मक स्थिति पर निर्भर नहीं करता, बल्कि शरीर पर भी काफी असर डालता है। यह stress हमारे इम्म्यून सिस्टम के लिए भी बहुत खतरनाक होता है। तनाव को दूर करने का सबसे सरल उपाय होता है की आप अपने माइंड और बॉडी को कुछ दिन का आराम दे और कुछ दिन किसी अच्छी जगह vacations पर चले जाये। इसके अलावा अच्छा म्यूजिक सुन कर या डांस करके भी तनाव कम होता है। यदि आपके तनाव का स्तर काफी बढ़ गया है तो उचित यही होता है की आप किसी अच्छे चिकित्सक को दिखाये। मेडिकेशन की मदद से भी तनाव कम करने में मदद मिलती है।

साथ ही साथ आप अपने चिकित्सक से मिलकर अपने स्वास्थ के बारे में जरूर डिसकस करें। अक्सर ऐसा होता है की हमारी बॉडी किसी तरह की परेशानी से गुजर रही होती है और हमे पता नहीं लग पाता। ऐसे में चिकित्सक ही हमारे शरीर को सही तरीके से चेक कर पाएगा।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here