जानिए आखिर क्यों उड़ायी जाती है मकर संक्रांति को पतंग…

0
160
sankranthi festival in hindi

Makar Sankranti: मान्यता है कि मकर संक्रांति के दिन सूर्य उत्तरायण में होता है इस दिन उतरी गोलाद्ध सूर्य की तरफ मुड़ जाता है।

यदि आप दुनियां में कहीं भी त्योहारों को लेकर उत्साह देखना चाहते हैं तो आपको हम गारंटी के साथ कह सकते हैं कि भारत के अलावा कहीं और देखने को नहीं मिल सकता। मकर संक्रांति नये साल के पहले महीने का पहला त्योहार होता है जिस कारण लोगों में एक अलग ही तरह का उत्साह देखने को मिलता है. मकर संक्रांति सम्पूर्ण भारत में लगभगं प्रत्येक जगह (भले ही इसके नाम अलग-अलग नाम से  ) मनायी जाती है.

माना जाता है कि मकर संक्रांति के दिन सूर्य उत्तरायण में होता है इस दिन उतरी गोलार्द्ध सूर्य की तरफ मुड़ जाता है। इस दिन विशेषकर खिचड़ी का भोग लगाया जाता है और गुड़, तिल, रेवड़ी का प्रसाद वितरित किया जाता है। मकर संक्रांति को ऋतु परिवर्तन और फसल व खेती से जोड़कर देखा जाता है। इस दिन भगवान सूर्य देव की पूजा की जाती है।

मकर संक्रांति त्योहार का त्योहार बहुत सी जगहों पर बेहद ही उल्लास के साथ सेलिब्रेट किया जाता है, इस त्योहार को मनाने लोकल मान्यता के हिसाब से के कई रीति-रिवाज हैं। प्रत्येक त्योहार को सिर्फ खुःशी या फिर रीति-रिवाज के तौर पर ही मनाने का मकसद नहीं होता है बल्कि कुछ त्योहारों को मनाने के पीछे अच्छे स्वास्थ्य लाभ से भी जुड़ा होता है। मकर संक्रांति उन्हीं त्योहारों में से एक है। जोकि भारत के हर हिस्से में अपने-अपने तरीके से मनाया जाता है।

मकर संक्रांति को मनाने का सबका तरीका भले ही अलग-अलग हो लेकिन इस त्योहार के दिन पतंग उड़ाने का रिवाज तो हर कोई जानता ही है। मकर संक्रांति के दिन पतंग उड़ाने का प्रचलन गुजरात में बहुत ज्यादा प्रचलित है.  पतंग उड़ाने का रिवाज मकर संक्रांति के साथ जुड़ा हुआ है। मकर संक्रांति के दिन अक्सर अपने घरों की छतों से पतंग उड़ाकर इस त्योहार का जश्न मनाते हैं। कई जगहों पर तो पतंग उड़ाने की प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जाती हैं।

हम आप सोचते हैं कि इस अवसर पर पतंग उड़ाने से आनंद मिलता है या फिर मनोरंजन होता है तो ये सच है लेकिन इसके साथ-साथ सबसे बड़ा फायदा है स्वास्थ्य लाभ का, दरअसल इस दिन सूर्य से मिलने वाली धूप का पतंग उड़ाने वाले व्यक्ति के शरीर को फायदा मिलता है। कहा जाता है कि सर्दियों में हमारा शरीर खांसी, जुकाम और अन्य कई संक्रमण से प्रभावित होता है मकर संक्रांति के दिन सूर्य उतारायण में होता है। सूर्य के उतरायण में जाने के समय उससे निकलने वाली सूर्य की किरणें मानव शरीर के लिए औषधि का काम करती हैं। इसलिए पतंग उड़ाने के शरीर को लगातार शरीर को सूर्य से सेंक मिलता है और उससे हमारा शरीर स्वस्थ रहता है।

 

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here