लू से बचने के उपाय: चिलचिलाती गर्मी से कब मिलेगी राहत, लू हवा किसे कहते हैं?

0
328
loo se bachne ke upay
loo se bachne ke upay

दिल्ली उत्तर प्रदेश हरियाणा पंजाब समेत कई राज्यों में गर्म हवा चल रही जिसे लू (Loo) कहते हैं। इस समय पारा 45 डिग्री से ऊपर जा रहा है। मौसम विज्ञानियों को ने भी चेतावनी दी है कि आने वाले वक्त में गर्मी और बढ़ेगी। आपको बता दें कि अप्रैल 2022 से ही एकाएक पारा बहुत तेजी से बढ़ने लगा जिस कारण से गर्मी का मौसम जल्दी ही शुरू हो गया।
गर्मी का कारण क्या है और लू हवा क्या होती है आइए जानें इसके बारे में-आपको बता दें कि सुबह 9 बजने के बाद से ही भीषण गर्मी शुरू हो जाती है। उत्तर प्रदेश के इलाकों में गर्म लू हवा (Heat Way) तेजी से लोगों का जीना मुश्किल कर रही है। मौसम विभाग (Weather Department) के जानकारी के अनुसार मई तक लू हवा बहुत तेजी से चलेगी जिससे पारा और ऊपर जाएगा। कोलकाता छत्तीसगढ़ मध्य प्रदेश इन सभी जगहों पर भी पारा 40 के ऊपर है। आइए जाने लू हवा क्या होती है।

लू हवा किसे कहते हैं?

Loo Hava Kise Kahte Hai: उत्तर भारत में गर्मियों के मौसम में उत्तर पूर्व और पश्चिम से पूरब दिशा की ओर चलने वाली गर्म हवा जिसमें धूल और बहुत गर्मी होती है। यह हवा बहुत ड्राई होती है। इस हवा का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से भी अधिक होता है इस हवा को लू कहा जाता है। इस खतरनाक हवा की चपेट में आने वाला इंसान का शरीर का टेंपरेचर हाई हो जाता है। मई और जून के महीने में लू हवा पूरे उत्तर भारत पंजाब-हरियाणा मध्यप्रदेश में चलती है। लू लगने की वजह से हजारों लोग गर्मियों में अपनी जान गवा देते हैं। इस समय पूरे उत्तर भारत में लू हवा चल रही है इसके बचाव के लिए घर में रहना ही उचित है।

चिलचिलाती गर्मी 2022 से कब मिलेगी राहत

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अभी मई महीने में लू हवा चलने के कारण तापमान में इजाफा होगा। गर्मी से राहत मई महीने में मिलने की कोई संभावना नजर नहीं आ रही है। Weather Reprort की मानें तो आने वाले कुछ हफ्तों में गर्मी और तेजी से बढ़ेगी। 22 जून के बाद गर्मी से राहत मिलने के आसार दिखाई दे रहे हैं। दक्षिण पश्चिम से मानसून हवाएं केरल से तरसे उठकर उत्तर भारत की ओर जब दस्तक देंगे तो कुछ नमी और ठंडी हवाओं के कारण तापमान उत्तर भारत का काम होगा। जानकारों की मानें तो इस बार गर्मी के समय अधिक बढ़ सकता है क्योंकि अप्रैल के महीने से ही भीषण गर्मी पड़ना शुरू हो गया था।

Loo और Heat Stroke में अंतर क्या होता है?

Loo एक गर्म हवा है जब शरीर पर लगता है तो टेंपरेचर पड़ जाता है जबकि हीटस्ट्रोक यानी लगातार गर्म में रहने के कारण बॉडी का टेंपरेचर एकाएक बढ़ जाता है और कम नहीं होता है इसे हीटस्ट्रोक कहते हैं। लो और हिट स्टॉप से परेशान इंसान तो चक्कर आता है और बेहोश हो जाता है। क्योंकि शरीर का तापमान 102 डिग्री से अधिक हो जाता है।

लू हवा से बचने के उपाय

चिलचिलाती गर्मी के साथ ही गर्म हवाएं जो चल रही है वह लू हवा है जो 45 डिग्री से अधिक गर्मी वाली होती है। इन दिनों गर्मियों में घर से निकलते समय नींबू, शरबत, लस्सी, Glucon-D, आम का पना सही आदि का सेवन जरूर कर लेना चाहिए जिससे कि बाहर पानी की कमी शरीर में ना हो जाए। घर से निकलते समय शरीर को पूरा ढक ले और सनग्लास जरूर लगा ले क्योंकि आंखों पर अल्ट्रावायलेट रे का प्रभाव पड़ता है। समय-समय पर भरपूर पानी पीना चाहिए और मौसमी फल जैसे तरबूज, ककड़ी, खीरा खाना चाहिए।

Disclaimer: Please be aware that the content provided here is for general informational purposes. All information on the Site is provided in good faith, however we make no representation or warranty of any kind, express or implied, regarding the accuracy, adequacy, validity, reliability, availability or completeness of any information on the Site.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here