नवरात्रि में हेल्थी रहने के लिए एवं व्रत के दौरान क्या खाना चाहिए..

0
579
HealthTips for Navratri Fast in Hindi

Health Tips for Navratri Fast in Hindi  – नवरात्रि प्रारम्भ होने वाल हैं इसके साथ ही भक्तगण माता रानी की पूजा अर्चना में अपना मन रमाते हैं. भक्तगण माता रानी की आराधना करने के साथ-साथ उपवास रखकर भी अपनी श्रद्धा भाव को प्रकट करते हैं. माना जाता हैं नवरात्रि में नौ दिनों तक उपवास रखने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं. इस कारण लोग देवी मां का ध्यान रखकर नौ दिनों तक व्रत रहते हैं.

माना जाता हैं कि व्रत रखने से कुछ स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं. उपवास रखने से पित्त की समस्या कम होने के साथ-साथ पाचन तंत्र में भी सुधा आता हैं. इसके साथ ही शरीर मे मौजूद बिषैले तत्व नौ दिनों के उपवास के समय शरीर से निकल जाते हैं। हालांकि कुछ लोगों को नौ दिनों के व्रत के दौरान कुछ समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता हैं. यह समस्याएं ठीक तरीके से साफ सफाई का ध्यान न रखने और ठीक खाना न खाने से उत्पन्न हो जाती हैं. इसलिए लोगों को यह सलाह दी जाती हैं कि वह व्रत के वक्त अपनी सेहत का विशेष ध्यान रखें. तो आज हम आपके लिए इसी विषय पर बताने जा रहे है कि व्रत के दौरान आप अपनी सेहत का ख्याल कैसे रख सकते हैं.

उपवास के दौरान कैसा आहार लेना चाहिए?

उपवास के दौरान हमेशा ध्यान रखें कि हाई फाइबर और लो फैट वाली चीजों का ही सेवन करना चाहिए। इसके साथ ही जो आहार आप ले रहे हैं वह मॉर्डरेट प्रोटी व हाई कार्बोहाइड्रेट से युक्त होना चाहिए. इस अवधि में शरीर में एनर्जी बनाए रखने के लिए सादे दूध की जगह स्किम्ड दूध पिएं व लिक्विड दैत लें.

व्रत के वक्त शरीर के लिए कितनी कैलोरी जरूरी हैं?

यह बात आप सभी भली भांति जानते हैं कि व्रत के दौरान शरीर में कमजोरी आती हैं। इसलिए शरीर को इस दौरान कम से कम 1800-2200 कैलौरी जरूर दें.

व्रत को दौरान क्या नही करना चाहिए-

तरल पदार्थों के सेवन के नाम पर व्रत के दौरान नीबू पानी पीकर व्रत नही रखना चाहिए। इसके अलावा व्रत के दौरान खाली पेट कुट्टू या सिंघारे के आटे की पूड़ी बनाकर भी न खायें। इतना ही नहीं बिना कुछ खायें केवल दूध पीकर व्रत न रखें इससे पेट कमजोर हो सकता हैं जिस कारण थकान, लो ब्लड प्रेशर एवं चिड़चिड़ापन होने की संभावनाए  हो सकती हैं. इसके साथ ही लम्बे समय तक भूखे रहने से एसिडिटी, गैस्ट्रइटिस एवं सीने में जलन की शिकायत हो सकती हैं. विशेष तौर पर ध्यान दें कि व्रत के दौरान खट्टे फल जैसे संतरा, नीबू, मौसम्मी आदि का सेवन न करें इससे एसिडिटी का खतरा बढ़ सकता हैं।

व्रत के दौरान इन चीजों का सेवन कर रखें सेहत का ध्यान-

नवरात्रि के समय व्रत रखने वाले व्यक्ति को ध्यान रखना चाहिए कि लंच और डिनर में संतुलित आहार जरूर लें, कुटू या सिंघारे के आटे की चपातियों का सेवन करें इसके साथ ही साबूदाने की खीर या खिचड़ी और लौकी आदि खा सकते हैं. इनके अलावा सीताफल, आलू की रसेदार सब्जी खाना चाहिए, इसके साथ ही दिन में कम से कम 03 बार फलों की सलाद का सेवन जरूर करें।

व्रत के दौरान करीब 5-6 बार सूखे मेवों के साथ जूस, मिल्क शेक आदि लेना चाहिए. हो सके तो व्रत के दौरान नारियल पानी अपने भोजन में जरूर शामिल करें. इसके अलावा वत रखने वाले व्यक्ति को पूरे दिन में कम से कम 8 लीटर पानी पीना चाहिए. ताजे फलों का सेवन करें कड़वे स्वाद के फलों को खाने से बचें.

साधना अजबगजबजानकारी की एडिटर और Owner हूं। मैं हिंदी भाषा में रूचि रखती हूं। मैं अजब गजब जानकारी के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हूं | मुझे ज्यादा SEO के बारे में जानकारी तो नहीं थी लेकिन फिर भी मैने हार नहीं मानी और आज मेरा ब्लॉग अच्छे से काम कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here