गांधी जी का जन्मदिन कब हुआ था – Gandhi Ji Ka Janm Kab Hua Tha

0
211
Gandhi Ji Ka Janm Kab Hua Tha

गांधी जी का जन्मदिन कब हुआ था – Gandhi Ji Ka Janm Kab Hua Tha?

सत्य अहिंसा की जीती जागती मिसाल महात्मा गांधी। आज फिर हमारे बीच ना हो लेकिन उनके विचार और उनके काम हमें हमेशा प्रेरणा देती रहती है। आइए जाने की महात्मा गांधी जी का जन्म कब हुआ था? Mahatma Gandhi ji ka janm kab hua tha?

महात्मा गांधी जी के बचपन का नाम क्या था? Mahatma Gandhi ji ke bachpan ka naam kya tha?

मोहन करमचंद गांधी जी का बचपन में नाम क्या था? यह जानना दिलचस्प है, काफी लोगों को या बात नहीं मालूम है।

दोस्ती उससे पहले जान लीजिए कि गांधी जी के पिता जी का क्या नाम था? उसके पिताजी का नाम मोहन करमचंद गांधी था। यह सब जानते हैं। लेकिन गांधीजी के दादाजी का क्या नाम था? तो बता दे कि दादाजी का नाम उत्तमचंद गांधी यानी ओता गांधी था।

महात्मा गांधी जी के पिताजी करमचंद गांधी महात्मा गांधी को प्यार से बचपन में  घरेलू नाम मोनिया रखा था।

 महात्मा गांधी का जन्म कब और कहां हुआ था?

दोस्तों अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 ई. गुजरात के पोरबंदर में हुआ था। भारत के आजादी के लिए उन्होंने संघर्ष किया नमक आंदोलन, असहयोग आंदोलन, सत्याग्रह, करो या मरो जैसे उनके आंदोलन से हिंदुस्तानियों में गुलामी की जंजीर तोड़ फेंकने की अलख जगाई। आंदोलन का प्रभाव पड़ा कि आम भारतीय अंग्रेजों से आजादी के लिए हर तरह का रास्ता अपनाना शुरू कर दिया। आजादी पाने की ललक अगर किसी लायक नहीं दिखाई है और सब को एकता के सूत्र में पिरोया है तो वह गांधी जी ही है। उनके नक्शे कदम पर वीर स्वतंत्रता संग्राम बढ़ते गए और 1 दिन ऐसा आया कि अंग्रेजों ने डरकर सत्ता भारतीयों के हाथों में सौंप दिया।

महात्मा गांधी को किस नाम से पुकारा जाता है?

महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नाम से पुकारा जाता है। गांधी के पिता का नाम करमचंद गांधी और माता का नाम पुतलीबाई है।दोस्तों की जानकारी करतार बता दे ब्रिटिश हुकूमत के इनके पिता पोरबंदर और राजकोट के दीवान थे। महात्मा गांधी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी है यह अपने तीनों भाइयों सबसे छोटे थे।

महात्मा गांधी को बापू सर्वप्रथम किसने कहा था? महात्मा गांधी को बापू नाम से किसने पुकारा था? इस तरह के प्रश्न अक्सर आपसे पूछे जाते हैं।

आपको इस प्रश्नों का जवाब थोड़ा डिटेल में देते हैं देखिए-

आजाद हिंद फौज के प्रमुख सुभाष चंद्र बोस ने 6 जुलाई 1944 से दिन रंगून से गांधी जी के नाम से जारी एक भाषण के समय उन्हें बापू और राष्ट्रपिता कह कर संबोधित किया था‌। ऐसा कहकर आजाद हिंद फौज के सिपाहियों के लिए आशीर्वाद और शुभकामना मांगी थी।

Advertisement

दोस्तों आप जानते 2 अक्टूबर को जन्मे महात्मा गांधी का जन्म दिवस अहिंसा दिवस के रूप में पूरी दुनिया बनाता है। आपको मालूम इसी दिन लाल बहादुर शास्त्री का जन्म दिवस भी 2 अक्टूबर को मनाया जाता है, उन्होंने जय किसान, जय जवान का नारा दिया था। उन्हें भारत के प्रधानमंत्री बनने का सौभाग्य मिला था।

Advertisement

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

साधना अजबगजबजानकारी की एडिटर और Owner हूं। मैं हिंदी भाषा में रूचि रखती हूं। मैं अजब गजब जानकारी के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हूं | मुझे ज्यादा SEO के बारे में जानकारी तो नहीं थी लेकिन फिर भी मैने हार नहीं मानी और आज मेरा ब्लॉग अच्छे से काम कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here