लोहड़ी त्यौहार क्यों मनाया जाता है? Why is Lohri Celebrated in Hindi

0
2
Why is Lohri Celebrated in Hindi

लोहड़ी के त्यौहार (Lohri Festival) का सभी लोग आनंद लेते हैं क्योंकि यह त्यौहार ऊर्जा से भरा हुआ होता है। लोहड़ी का त्यौहार हर महीने जनवरी माह की 13 तारीख को खुशियाँ लेकर आता हैं। लोहड़ी एक मजेदार भारतीय त्योहार है। लोहड़ी के अगले दिन ही मकर संक्रांति या पोंगल त्योहार मनाया जाता है।

लोहड़ी त्यौहार क्यों मनाया जाता है? Why is Lohri Celebrated in Hindi

लोहड़ी को सती के त्याग के रूप में प्रतिवर्ष याद करके मनाया जाता है। पुराणों के मुताबिक जब प्रजापति दक्ष ने अपनी पुत्री सती के पति महादेव शिव का तिरस्कार किया था एवं अपने जामाता को यज्ञ में सम्मिलित ना करने से उनकी पुत्री ने अपने आपको अग्नि के हवाले कर दिया। उसी दिन के बाद से पश्चाताप के रूप में प्रति वर्ष लोहड़ी पर मनाया जाता है एवं इस कारण घर की विवाहित बेटी को इस दिन तोहफे दिये जाते हैं और भोजन आदि पर निमंत्रण कर उनका सम्मान करते हैं, इस ख़ुशी में श्रृंगार का सामान सभी शादीशुदा महिलाओं को बांटा जाता है।

लोहड़ी एक पंजाबी त्यौहार है जिसे उत्तर भारत में मकर संक्रांति से पहले मनाया जाता है। इस त्यौहार को एक स्थान पर लकड़ी के कुछ टुकड़े को इकट्ठा करके मनाया जाता है और वे लोहड़ी के दिन आधी रात को इस लकड़ी को आग लगाते हैं और वे इस दिन अग्नि की पूजा करते हैं।

हड़ी हमेशा नए साल के बाद और जनवरी के महीने में सर्दियों के समय मनाई जाती है। लोहड़ी के दिन, सभी बच्चे अपने स्थानीय स्थानों पर एक साथ धन और लोहड़ी जमा करते हैं और उसी दिन आधी रात को अलाव बनाया जाता है और उस समय वे अलाव के आस-पास बैठकर लोहड़ी फेस्टिवल फूड, मीठा, मूंगफली, पॉपकॉर्न आदि खाते हैं।

वे सभी मिठाइयों और पॉपकॉर्न को अलाव में फेंकते हैं और, सभी एक पंक्ति में अलाव के चारों ओर घूमते हैं। दिन पूरे आनंद के साथ मनाया जाता है और पूरे मज़े के साथ मनाया जाता है, यह हमेशा आपके और आपके परिवार के लिए इस लोहड़ी की शुभकामनाएँ लाता है।

यह त्यौहार पंजाब में सबसे महत्वपूर्ण है और त्यौहार के दिन सभी पंजाबी लोग तैयार हो जाते हैं और वे त्यौहार के दिन अनूठे तरीके से उत्सव मनाने के लिए पारंपरिक रूप से कुछ विशेष कपड़े पहनते हैं। यह मुख्य रूप से दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश में मनाया जाता है जहां पंजाबी, उत्तर भारतीय आबादी अधिक है।

इसे भी पढ़ें- Happy Lohri 2021: Wishes in Hindi, English and Punjabi – हैप्पी लोहड़ी

Advertisement

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

साधना अजबगजबजानकारी की एडिटर और Owner हूं। मैं हिंदी भाषा में रूचि रखती हूं। मैं अजब गजब जानकारी के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हूं | मुझे ज्यादा SEO के बारे में जानकारी तो नहीं थी लेकिन फिर भी मैने हार नहीं मानी और आज मेरा ब्लॉग अच्छे से काम कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here