Train का आविष्कार किसने किया था और कब हुआ। Train Ka Avishkar Kisne Kiya

Train का आविष्कार किसने किया था और कब हुआ। Train Ka Avishkar Kisne Kiya इसके बारे में विस्तार से जानने के लिए पूरा आर्टिकल जरूर पढ़ें

0
528
Train Ka Avishkar Kisne Kiya
Train Ka Avishkar Kisne Kiya

Train Ka Avishkar Kisne Kiya: Train का आविष्कार किसने किया था आइए इसके बारे में जाने,  दुनिया में हर साल अरबों लोग  यात्राएं ट्रेन के माध्यम से ही करते हैं। ट्रेन के द्वारा ही सामान मालगाड़ी द्वारा पहुंचाया भी जाता है। आधुनिक समय में मालगाड़ी डिब्बे और सवारी डिब्बे यात्रा के महत्वपूर्ण साधन है।

Train का आविष्कार किसने किया था और कब हुआ। Train Ka Avishkar Kisne Kiya

आपको बता दें कि ट्रेन का पहला सफर यानी सफल ट्रेन 27 सितंबर 1825 को जार्ज स्टीफेन्सन (George Stephenson) द्वारा बनाई गई थी।  इस ट्रेन का नाम लोकोमोशन रखा गया था।

जॉर्ज स्टीफनसन

 ट्रेन के अविष्कारक  जार्ज स्टीफेन्सन है। British engineer George Stephen  की बनाई पहली ट्रेन 24 किलोमीटर पर घंटे की रफ्तार से चलती थी।  पहली बार इस ट्रेन में 450 यात्रियों को इंग्लैंड के डार्लिंगटन और स्टॉकटन  की दूरी की यात्रा करवाया था।

जर्ज स्टीफेन्सन और उनका तेज ट्रेन इंजन ‘राॅकेट’

पहली ट्रेन की सफलता से उत्साहित और स्टीफेनसन ने लिवरपूल और मैनचेस्टर के बीच 64 किलोमीटर लंबी रेल पटरी बनाई थी। यह दुनिया की प्रथम इंटरसिटी रेलवे की। जिसे 18 सितंबर 1830 को चलाया गया था। ट्रेन इंजन का नाम रॉकेट था।

ट्रेन से संबंधित महत्वपूर्ण बातें

आपको बता दें कि  जार्ज स्टीफेन्सन से भी पहले इंग्लैंड के रिचर्ड ट्रेविथिक ने भी सन् 1804 में एक स्टीम रेल इंजन  बनाया था।

इसका मुख्य काम कोयले की खान से कोयले की ढुलाई करना था। इससे इंजन में काफी कमियां थे इसलिए यह ज्यादा सफल नहीं हो पाया था।

बिजली से चलने वाली पहली ट्रेन इंजन स्कॉटलैंड के  रॉबर्ट डेविडसन ने  1837 में बनाया था। इसका इंजन बैटरी से चलता था।

 ट्रेन के ट्रैक बदलने वाले  रेलरोड स्विच का आविष्कार अंग्रेज सिविल इंजीनियर सर चाल्र्स फाॅक्स ने सन् 1832 में किया गया था।

‘विवेक एक्सप्रेस’ भारत में सबसे लंबी दूरी तक चलने वाली रेलगाड़ी है।

 यह असम के डिब्रूगढ़ और तमिलनाडु के कन्याकुमारी के बीच चलती है। कुल 4286 कि० मी० की दूरी तय करती है।

संसार की पहली अंतरराष्ट्रीय रेल लाइन सन् 1843 में बेल्जियम और जर्मनी के बीच बनाई गई थी। यह रेलवे लाइन बेल्जियम के ब्रुसेल्स शहर को जर्मनी के कोलोन शहर से होकर गुजरती है।

सन् 1912 में स्विट्जरलैंड की खूबसूरत धरती पर दुनिया की पहली डीजल से चलने वाली ट्रेन ट्रेन  संचालित हुई। इस ट्रेन की गति 100 किलोमीटर प्रति घंटे थी।

 1964 में जापान के टोक्यो से ओशोका शहर के बीच 164 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार की पहली ट्रेन चली थी।

भारत में सबसे तेज चलने वाली ट्रेन ‘वंदे भारत एक्सप्रेस’ है। इसकी अधिकत्म रफ्तार  180 किलोमीटर प्रति घंटे  है।

संसार की सर्वाधिक  लंबी रेलवे सुरंग स्विट्जरलैंड में ‘गोथार्ड टनल’ है। इसकी लंबाई 57 किलोमीटर है।

भारत की सबसे लंबी रेलवे सुरंग जम्मू-कश्मीर में ‘पीर पंजाल रेलवे टनल’ जिसकी लंबाई 11.215 किलोमीटर है।

Disclaimer: Please be aware that the content provided here is for general informational purposes. All information on the Site is provided in good faith, however we make no representation or warranty of any kind, express or implied, regarding the accuracy, adequacy, validity, reliability, availability or completeness of any information on the Site.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here