महाशिवरात्रि को नहाते बक्त करे यह काम ,नहीं होंगी कभी भी पैसे की कमी

0
462
source
source

हिन्दू धर्म मैं हर एक त्यौहार का अपना एक अलग ही महत्व होता है। इन सब के बीच सभी देवताओ के आराध्य और देबो के देव महादेव का महोतस्ब यानि कि शिवरात्रि का अपना एक अलग ही महत्व होता है। हिन्दू धर्म की मान्यताओं की माने तो इसी दिन माता पार्बती के साथ भगबान भोले का विवाह संपन्न हुआ था। और इसी लिए इस दिन शिव भक्तो के लिए किसी त्यौहार से कम नहीं होता है। इस दिन सभी शिब भक्त ब्रत रखते है।

शिव जी आते है धरती पर

मान्यताओं की माने तो लोगो का मानना है , की इस दिन खुद भगबान शिव धरती पर आते है। और बह उन सभी जगहों पर जाते भी है जंहा जंहा उनकी शिवलिंग बिराजमान होती है। और अपने भक्तो की हर मनो कामना को बह पूरा करते है। लोगो का यंहा तलक मानना है की इसी दिन शिव जी को पहली बार शिवलिंग के रूप मैं पूजा गया था। इस दिन यह महापर्व 13 फरवरी को यानी की मंगलबार को होगा। इस दिन सभी शिव भक्त अपने आराध्य को खुश करने के लिए उपवास रखते है।

source
source

एक बात तो सभी हिन्दू धर्म को मानने बाले लोग भली भांति रूप से जानते ही होंगे की हर महीने मासिक शिवरात्रि आती है। मगर साल मैं दो बार पड़ने बाली इन शिवरात्रि का अपना एक अलग ही महत्व होता है। साल मैं आने बाली दोनों शिबरात्रि का अपना एक अलग ही महत्व होता है। साल की पहली शिवरात्रि फाल्गुन मास में तथा दुसरी श्रावण मास मैं होती है। लेकिन इस बार की शिवरात्रि मैं एक बड़ा ही महा सयोंग बनने जा रहा है। इसीलिए अगर आप इस दिन ज्योतिस्यो के बातये अनुसार कुछ उपाय कर लेते है। तो इससे आपको बहुत धन लाभ होने के लाभ बने रहते है।

यह करे उपाय

आज हम आपको एक ऐसे ही उपाय के बारे मैं बताने जा रहे है ,जिसे अगर आप शिवरात्रि के दिन सुबह नहाते बक्त कर लेते है। तो आपकी किस्मत खुलने से कोई नहीं रोक सकता है। लेकिन आपको यह सभी उपाय करने शिवरात्रि के दिन स्नान के समय ही है।

source
source

उपाय

सबसे पहले नहाते समय आपको एक कटोरी मैं पानी लेना है, और उस पानी बाली कटोरी को आपको अपने मंदिर मैं जा कर रख देना है। इसके बाद आपको उस कटोरी को मंदिर से उठा लेना है, और उस कटोरी को अपने हाँथ मैं पकड़ कर अपने ऊपर आयी हुई सभी परेशानियों के बारे मैं बोलना है। इसके बाद उस पानी को उबलने रख दे। फिर उसमे एक छोटी और एक बड़ी इलायची को दाल दीजिये। अब इस पानी को अपन नहाने बाले पानी के साथ ही मिला ले। लेकिन इस बात का ध्यान रखना है आपको की यह उपाय केबल शिवरात्रि के सुबह स्नान के समय ही करना है। अन्यथा आपको इसका सही फल नहीं मिल सकेगा। इसके बाद आपको इस उपाय का सही असर कुछ दिनों मैं ही दिखने लगेगा।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here