काम में हमेशा मोटिवेट रहने के लिए जरूर अपनाएं ये 6 Tips

0
127
motivation-tips-in-hindi

Motivation Tips for Work: जॉब के दौरान उत्साहित रहने और अपने काम को बेहतर करने के लिए यह टिप्स आपके मील का पत्थर सावित होगीं।

प्रत्येक दिन के लिए लक्ष्य का निर्धारण करें –

यहां आज हम आपके जीवन के लक्ष्य के बारे में बात नहीं कर रहें हैं। आपने अपने जीवन के लिए जिस लक्ष्य का निर्धारण किया होगा उसे तो आप जानते ही होंगे लेकिन उसे पूरा करने के लिए आपको शार्ट और लॉन्ग टर्म गोल सेट जरूर करने होंगे तभी उसे हांसिल कर सकते हैं।  प्रत्येक दिन जब आप अपने घर से काम के लिए निकलते हैं तो एक लक्ष्य करके निकले। अपने ऑफिस वर्क का एक Target सेट करें और उसे पूरा करने की पूरी कोशिश जरूर करें । वह टारगेट पूरा होगा या नहीं इसकी चिंता करके वेबजह परेशान न हों उसकी जगह छोटे-छोटे गोल्स सेट करके स्वयं को ही चैलेंज करें। यदि आपके पास कोई टारगेट ही नहीं होगा तो आप काम के प्रति आपना उत्साह भी बरकरार नहीं रख पायेंगे।

काम को छोटे-छोटे भागों में बांटे- 

यदि कोई बड़ा Task है और आप उसके बारे में सोचकर परेशान हो रहे हैं उसे पूरा नहीं कर पा रहे हैं तो परेशान होने की बजाय छोटे हिस्सों में बांट कर पूरा करने की कोशिश करें क्योंकि छोटे काम जल्दी पूरे होते हैं जिस कारण आपका मनोबल बढ़ा रहेगा और इससे आपको  बहत मदद मिलेगी। यदि ज्यादा आवश्यकात हो तो काम को अपने साथियों के साथ भी बांट सकते हैं। Helping Hand मिलने से भी उत्साह बढ़ता है और मनोबल बुलंद रहता है।

अपने काम का एनालिसिस करें-

किसी भी काम को करते वक्त Self assimilation बेहद जरूरी है। यदि आप काम के दौरान उत्साहित रहना चाहते हैं तो अपनी Progress का Analysis करना भी बेहद जरूरी है। जरूरी इसलिए है कि आपने जो टारगेट्स आपने सेट किए थे वह पूरे हुए भी हैं या नहीं। जब आप स्वयं का आकलन करेंगे और Progress देखेंगे तो आप और बेहतर करने के लिए खुद को Motivate करेंगे।

आराम भी जरूरी है –

काम के दौरान आपको Load नहीं लेना है। यदि किसी एक समय पर आपका कोई काम पूरा नहीं हो रहा है तो थोड़ा ब्रेक लेकर आराम कर लीजिये। कई बार ऐसी स्थिति भी बन जाती है कि आपको पता होता है कि काम कैसे होगा, लेकिन आप उसे पूरा नहीं कर पाते। इसका सबसे बड़ा Reason तनाव होता है। काम के दौरान बहुत ज्यादा तनाव लेने से आप वह काम भी करना भूल जाते हैं जिसमें आप निपुण होते हैं। ऐसी परिस्थिति में जब काम पूरा न हो रहा हो तो एक छोटा सा ब्रेक लें। अपनी टेबिल से उठकर टहलें, ऑफिस से बाहर जाकर चाय या कॉफी पी कर आएं या अपना कोई पसंदीदा गाना सुनें। ऐसा करने से आप अपने आप को तरोताजा महशूश करेंगे।

असफल होने पर निराश न हों –

यह जरूरी नहीं होता है कि हम जिस काम को कर रहे है उसमें सफलता ही हांसिल हो । हम सभी नाकाम भी होते हैं और ऐसी स्थिति में स्वयं को कोसने या कमजोर समझने की गलती न करें। ऐसी स्थिति में स्वयं को बेहतर बनाने का प्रयाश करें। जरूरत हो तो इसके लिए अपने दोस्तो या सगे सम्बन्धियों से परामर्श भी करें लेकिन स्वयं को कभी भी कमजोर न समझें।

व्याकुलता (Distraction)-

अपने काम को दौरान Professional बने रहें। जो चीजें आपको व्याकुल करती हों उनसे थोड़ा दूरी बनाए रखने की कोशिश करें। यह सब आपकी गति और गुणवक्ता पर भी असर डालते हैं।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here