इन्टरव्यू- एक शानदार लेख/Story

0
3
Interview

Interview Motivational Story in Hindi: एक बार एक गाँव में अमीर और धनवान व्यापारी सोहनलाल रहता था|सोहनलाल को अपने व्यापार की देखभाल के लिए एक मैनेजर की ज़रूरत थी|उसने गाँव में साक्षात्कार यानी इंटरव्यू रखा|उसके दिमाग में एक तरकीब आयी कि वह कुछ ऐसा करेगा ताकि उसे फैसला करने में आसानी हो | उसने अपने विशाल घर के बाहर १० भारी बोरियां और २ बस्ते रख दिए| इंटरव्यू यानी साक्षात्कार शाम में था|

Interview

गांव से बहुत लोग आये जो शिक्षित थे और इंटरव्यू देने आ पहुंचे|लोगों में बड़ी उत्सुकता थी| हर एक का इंटरव्यू बारी -बारी से शुरू हुआ|सब अपने -आपको को साबित करने पर तुले थे|इंटरव्यू एक दूसरा आदमी ले रहा था| लेकिन सोहनलाल की नज़रे कहीं और थी|वह एक पथ्तर के पीछे छिपकर देख रहे थे कि कोई दरवाज़े के पास बोरो को हटाते है या नहीं|३ घंटे हो गए थे मगर किसी ने भी उन बोरियों को नहीं हटाया|

यह देखकर सोहनलाल निराश हो गया था|१ घंटे के बाद एक आदमी आया और उसने सारे बोरियों को वहां से हटा दिया और इंटरव्यू देने अंदर गया|सोहनलाल बेहद  खुश हुआ और सोहनलाल ने मैनेजर की नौकरी उसे व्यक्ति को दी जिसने सारे रास्ते में आने वाले सारी मुश्किलों को हटाया|

उस व्यक्ति ने बोला-” साहब सुक्रिया नौकरी के लिए “

सोहनलाल ने कहा-“मैं तुमसे बेहद खुश हूँ|”

व्यक्ति बोला -” जी मैंने रास्ते से बोरियां इसलिए हटाई ताकि किसी को कोई दिक्कत न हो “

सोहनलाल ने कहा -“तुम्हारे जैसे लोग बहुत मुश्किल से मिलते है “

सोहनलाल बेहद खुश हुआ और गांव में परिणाम की घोषणा की|

इस कहानी से हमे यह शिक्षा मिलती है की ज़िन्दगी में कठिन से कठिन परिस्थितिओं का सामना करने की ज़रूरत है|चाहे कितनी भी मुश्किल घड़ी हो ,उससे भागना निडर का काम होता है|परिस्थतिओं का डटकर सामना करना चाहिए तभी मंज़िल प्राप्त होती है|

ज़िन्दगी में कायर मुश्किलों से भागते है|जैसे की गांववालों ने बोरियों को पार किया पर वहां से किसी ने भी उन बोरियों को हटाने की न सोची|यह सोच अनुचित है|हम किसी और का इंतज़ार करते है कि वह इन मुश्किलों को हल करेगा|दुसरो पर निर्भर न रहकर खुद हमे आगे बढ़कर कठिनाईओं का सामना करना है|

Advertisement

भीड़ हमेशा उस रास्ते चलती है जो रास्ता आसान होता है|लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं की वह रास्ता सत्य है|निडर और मेहनती लोग अपना रास्ता खुद चुनते है और अकेले चलने से नहीं हिचकिचाते| वह निडर इंसान किसी भी परिस्थति में घबराता नहीं बल्कि साहस के साथ मुस्किलो का समंदर पार कर लेता है|

ज़िन्दगी एक किताब है जिसका हर पन्ना आसान नहीं होता|कुछ पन्ने बेहद मुश्किल होते है लेकिन उन पन्नो को छोड़कर अगर आप किताब को पड़ेंगे तो आपको ठीक से समझ नहीं आएगा|इसका अर्थ यह है की ज़िन्दगी में किसी भी कार्य को न आधे में छोड़े न मुश्किलों से भागे| हर चुनौतियों का सामना करे|

इन्हे भी पढ़ें-

Advertisement

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

साधना अजबगजबजानकारी की एडिटर और Owner हूं। मैं हिंदी भाषा में रूचि रखती हूं। मैं अजब गजब जानकारी के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हूं | मुझे ज्यादा SEO के बारे में जानकारी तो नहीं थी लेकिन फिर भी मैने हार नहीं मानी और आज मेरा ब्लॉग अच्छे से काम कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here