क्या आप आम बजट से जुड़ी ये बाते जानते हैं…

0
169
Interesting Fact About Budget Of India

Interesting Fact About Budget Of India – मार्च में भारत का बजन वित्त मंत्री द्वारा संसद में पेश किया जायेगा. बजट को लेकर आम आदमी बहुत उम्मीदें लगाये रहता है कि इस बजट में क्या सस्था और क्या मंहगा होगा, इऩकम टैक्स में छूट मिलेगा या नहीं. भारत बहुत बड़ा देश है जिसका बजट तैयार करना कोई छोटी बात नहीं है लेकिन फिर भी इस काम को बजट को तैयार करने वाले अधिकारी व कर्मचारी बखूबी निभाते हैं. वैसे देखा जाये तो बजट को लेकर सत्ताधारी दल की सोच होती है कि उसने चुनाव के दौरान आम आदमी से जो वादे किये थे उसे कैसे पूरा किया जाये. आज हम आपको बजट से जुड़ी कुछ ऐसी दिलचस्प बातों को बताने जा रहे हैं जो शायद ही आप जानते होंगे. आइये जानते हैं इनके बारे में

1-बजट एक फ्रेंच शब्द ‘बौगेट’ से निकला है जिसका अर्थ होता है चमड़े का थैला. परंपरा के अनुसार आज भी भारतीय वित्तमंत्री एक चमड़े के ब्रीफकेस में बजट से सम्बंधित कागज़ लेकर जाते हैं

2-भारत का पहला बजट 7 अप्रैल 1960 में पेश किया गया था जिसे ब्रिटेन की महारानी के सामने वित्त सदस्य जेम्स विल्सन ने पेश किया. भारत परिषद वॉइसरॉय को सलाह देने का काम करती थी

3- रेल यातायात भारतीय अर्थव्यवस्था का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है इसीलिए पिछले 92 साल तक रेल बजट को आम बजट से अलग पेश किया जाता था लेकिन पिछले साल एनडीए सरकार ने रेल बजट को आम बजट में मिला दिया. अब ये अलग से पेश नहीं किया जाता है.

4- स्वतंत्र भारत का पहला बजट आर.के. शनमुखम चेट्टी ने 26 नवंबर 1947 को पेश किया था. यही दिन संविधान दिवस के रूप में भी मनाया जाता है क्योंकि संविधान के कुछ महत्वपूर्ण प्राविधान इसी दिन लागू हुए थे जबकि 26 जनवरी 1950 को विधिवत पूरा संविधान लागू हुआ. इस पहले बजट में कोई नया टैक्स नहीं लगाया गया था.

5-वित्त मंत्री ही बजट पेश करता है लेकिन प्रधानमंत्री रहते हुए जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी ने बजट पेश किया

6-आजाद भारत में साल 2016-17 तक कुल 86 बजट पेश किए गये.

7-देश में अब तक के 25 वित्त मंत्रियों में से 11 मंत्री ऐसे रहे हैं जिनके पास कानून की डिग्री रही है. मौजूदा वित्त मंत्री अरूण जेटली भी इसी सूची में शामिल है।

8- संसद में बजट पेश करने के वक्त वित्त मंत्री पहले कुछ कागजात पढ़ते हैं. इन कागजात की छपाई शुरू होने से पहले हलवा समारोह किया जाता है. इस हलवा समारोह की दिलचस्प बात यह है कि इस हलवा को स्वंय बित्त मंत्री तैयार करते हैं. जिसे बजट तैयार करने वाले सभी अधिकारियों में बांटा जाता है।

9-बजट किस दिन पेश होगा, इन सब बतों को राष्ट्रपति द्वारा निर्धारित किया जाता है। पूरा बजट दो हिस्सों में होता है जिसमें पहला इकनॉमिक सर्वे और दूसरे हिस्से में टैक्स से जुड़े मुद्दे होते हैं।

10-भारत में सबसे ज्यादा बजट पेश करने वाले वित्तमंत्री मोरारजी देसाई हैं जिन्होंने करीब 10 बार देश का बजट पेश किया हैं. इसके साथ ही उन्होंने दो बार बजट आपने जन्मदिन 29 फरवरी को पेश किया।

11-भारतीय गणतंत्र की स्थापनाके बाद पहला बजट 28 फरवरी 1950 को जान मथाई ने पेश किया था।

12-28 फरवरी 1950 के इस बजट में योजना आयोग की स्थापना का वर्णन किया था।

13-सीडी देशमुखवित्त मंत्री होने के साथ रिजर्व बैँक के पहले गवर्नर भी थे।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here