Good Friday क्यों मनाया जाता है? Good Friday Kyon Manaya Jata Hai

0
148
Good Friday क्यों मनाया जाता है_

Good Friday क्यों मनाया जाता है? ईसा मसीहा (Isa Masiha) को सूली पर क्यों चढ़ाया गया था? संडे को ईस्टर त्यौहार क्यों मनाया जाता है? Good Friday Kyon Manaya Jata Hai:

दोस्तों आज बताने जा रहे हैं कि गुड फ्राइडे क्या है? इस दिन ईसा मसीह Isa Masih को सूली पर क्यों चढ़ाया गया था? गुड फ्राइडे Good Friday को और किस नाम से जाना जाता है? ईसा मसीह को सूली पर कहां चढ़ाया गया था? सूली पर चढ़ने के बाद कब ईसा मसीह कब जीवित हो गए? संडे को इस्टर त्यौहार क्यों मनाया जाता है? इन सब बातों का जवाब आर्टिकल में आपको मिलेगा। आज 2 अप्रैल 2021 को ईसाइयों का त्यौहार गुड फ्राइडे Good Friday मनाया जा रहा है। हर साल Good Friday यह त्यौहार मनाया जाता है। Good Friday को पुण्य शुक्रवार भी कहा जाता है।

Good Friday क्यों मनाया जाता है_

गुड फ्राइडे क्यों मनाया जाता है? Good Friday Kyu Manaya Jata Hai?

Good Friday ‘शोक दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। बाइबल के अनुसार आज ही के दिन प्रभु ईसा मसीह ने अपने जीवन का बलिदान दिया था। उसी बलिदान को याद करते हुए ईसाई समुदाय के लोग गुड फ्राइडे मनाते हैं। दोस्तों मान्यता है कि इसी दिन प्रभु ईसा मसीह को शारीरिक यातनाएं दी गई थी। फिर सूली पर चढ़ा दिया गया था। लेकिन इसके बावजूद भी उन्होंने सत्य और अहिंसा के मार्ग को नहीं छोड़ा।

ईसा मसीह को सूली पर क्यों चढ़ाया गया था?

आज से लगभग 2000 साल पहले धरती पर ईसा मसीह ने जन्म लिया था। दोस्तों उन्होंने मानवता का संदेश इस धरती पर दिया था। ईसा मसीह का जन्म यरुशलम के गैलिली प्रांत में हुआ था। उस समय के पाखंडी धर्मगुरुओं लोगों पर अत्याचार करते थे और अंधविश्वास के जरिए वहां के लोगों का जीना दुश्वार कर दिए थे। ऐसे लोग सत्ता पक्ष के साथ मिलकर वहां के लोगों को तरह-तरह के तरीकों से सताते थे। ऐसे में आशा की किरण के रूप में मसीहा ईसा का जन्म हुआ था। ईसा मसीह ने जब वहां पर लोगों को मानवता, परोपकार, एकता और अहिंसा का उपदेश दे रहे थे। उनके उपदेशों से वहां के लोग बहुत प्रभावित हुए और ईश्वर को मानना शुरू कर दिया। लेकिन यह बात उन धार्मिक अंधविश्वास फैलाने वाले धर्मगुरु को अच्छी नहीं लगी और ईसा मसीह से चढ़ने लगे। उनकी इस बढ़ती लोकप्रियता से धर्मगुरुओं ने ईसा की शिकायत रोम के शासक पिलातुस से कर दी।

ईसा मसीह को कहां पर सूली पर लटकाया गया था?

पाखंडी धर्मगुरुओं ने पिलातुस को बताया कि स्वयं को ईश्वर पुत्र बताने वाला यह युवा आप की सत्ता की जगह ईश्वर की सत्ता की बातें करता है। इस तरह की शिकायत मिलने पर ईसा मसीह को राजद्रोह के आरोप में वहां के राजा ने Cross पर लटका कर मौत की सजा देने का फैसला सुना दिया। चाबुक से मारने के बाद कांटों का ताज पहना कर ईसा के शरीर पर कीलों से ठोककर सूली पर लटका दिया गया। बाइबल के अनुसार ईसा मसीह को जिस जगह सूली पर लटकाया गया था, उसका नाम गोलगोथा है।

गुड फ्राइडे को और किन किन नामों से जाना जाता है?

फ्राइडे को ब्लैक फ्राइडे, होली फ्राइडे या ग्रेट फाइडे के नाम से भी जाना जाता है। ईसाई धर्म के लोग इस दिन उपवास रखें ईश्वर ईसा मसीह का ध्यान करते हैं। चर्च में जाकर प्रार्थना करते हैं।

ईसा मसीह के मृत्यु के दिन गुड क्यों कहा जाता है?

Good Friday के दिन ईसा मसीह ने मानवता की भलाई के लिए अपना जीवन कुर्बान कर दिया था, दिन फ्राइडे था और इसे गुड फ्राइडे के रूप में मनाया जाता है।

गुड फ्राइडे के दो दिन बाद ईस्टर त्यौहार Easter Festival क्यों मनाया जाता है?

दोस्तों 2 अप्रैल 2021 को गुड फ्राइडे मानवता के लिए खुद को कुर्बान कर देने वाले ईसा मसीह के इस पावन पुण्य दिन को गुड फ्राइडे के तौर पर मनाया जाता है। लेकिन इसके 2 दिन बाद पढ़ने वाले संडे 4 अप्रैल 2021 को यानी कि गुड फ्राइडे को जब उन्हें सूली पर चढ़ाया था तो ठीक 2 दिन बाद संडे था और उस दिन वह जीवित हो गए थे, ऐसी मान्यता है। इसी खुशी में ईस्टर त्यौहार Easter Festival संडे को ईसाई समुदाय के लोग मनाते हैं। दया करुणा सत्य अहिंसा के मार्ग में चलने वाले ईश्वर के पुत्र है और उन्होंने धरती पर संदेश दिया कि ईश्वर को जानों वही तुम्हारा कल्याण करेंगे।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

साधना अजबगजबजानकारी की एडिटर और Owner हूं। मैं हिंदी भाषा में रूचि रखती हूं। मैं अजब गजब जानकारी के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हूं | मुझे ज्यादा SEO के बारे में जानकारी तो नहीं थी लेकिन फिर भी मैने हार नहीं मानी और आज मेरा ब्लॉग अच्छे से काम कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here