समाजवादी प्रमुख अखिलेश यादव का जीवन परिचय

समाजवादी प्रमुख अखिलेश यादव का जीवन परिचय जिसमें आप उनके परिवार, राजनैतिक जीवन व उनके व्यक्तिगत जीवन के बारे में जानेंगे साथ ही उनसे जुड़ी अन्य बातों को भी जानेंगे।

1
124
Samajwadi Party Pramukh Akhilesh Yadav Biography in Hindi
निजी जीवन
पूरा नाम–  अखिलेश यादव
जन्म तिथि-  01 Jul 1973 (उम्र 48)
जन्म स्थान– सेफई, उत्तर प्रदेश, भारत
पार्टी का नाम- समाजवादी पार्टी
शिक्षा- मास्टर डिग्री: पर्यावरण इंजीनियरिंग में
व्यवसाय- भारतीय राजनेता
पिता का नाम– मुलायम सिंह यादव
माता का नाम– मालती देवी
पत्नी का नाम– डिंपल यादव
पत्नी का व्यवसाय– पूर्व लोकसभा सांसद
संतान– 1 पुत्र (अर्जुन यादव) 2 पुत्री (अदिति यादव व टीना यादव)
सम्पर्क
स्थाई पता – ग्राम सेफई, जनपद इटावा, उत्तर प्रदेश
वर्तमान पता : 5, विक्रमादित्य मार्ग, लखनऊ, उत्तर
सम्‍पर्क नंबरः 09013180048
वेबसाइट– www.akhileshyadav.com

राजनीति  में जनता के बीच पॉपुलर नेता अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो है। उत्तर प्रदेश के कम उम्र के युवा मुख्यमंत्री बनने का श्रेय इनको प्राप्त हुआ है। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव मार्च 2012 में 224 सीटें जीतकर 38 साल की उम्र में उत्तर प्रदेश के 33 वें मुख्यमंत्री बनकर इतिहास रचा था।

राजनीति इन्हें विरासत में मिली है मगर मेहनत के बल पर उन्होंने राजनीति में अपना एक नया मुकाम हासिल किया है जो बहुत कम लोग ही कर पाते हैं।

पिता मुलायम सिंह की राजनीतिक विरासत को आगे बढ़ा रहे हैं। अखिलेश यादव के जीवन परिचय के बारे में हम बताने जा रहे हैं, अखिलेश यादव बायोग्राफी इन हिंदी। यूपी इलेक्शन 2022  में अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) एक बड़े चेहरे के रूप में उभरकर सामने आ रहे हैं। आइए जानें Akhilesh Yadav Biography (in Hindi)  के  बारे में-

अखिलेश यादव का जीवन परिचय

समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के सुपुत्र अखिलेश यादव को असली पहचान तब मिली जब 2012 में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव और पार्टी की कमान उनके हाथ में सौंप दी गई।  युवा मुख्यमंत्री के रूप में इन्होंने शपथ लिया और 5 साल तक उत्तर प्रदेश में सरकार भी चलाई। लेकिन 2017 के चुनाव में पार्टी की करारी हार इनके नेतृत्व में हुई और फिर विपक्ष की राजनीति करने लगे।

अब 2022 में उत्तर प्रदेश का चुनाव होने जा रहा है ऐसे में भाजपा के सामने कड़ी चुनौती बनकर अखिलेश यादव उभरे हुए हैं। आने वाले समय में क्लियर हो जाएगा कि इस बार उत्तर प्रदेश के चुनाव का परिणाम किस के फेवर में रहता है।

जीवन, जन्म तिथि, Mother Name

अखिलेश यादव: का जन्म 1 जुलाई 1973 को उत्तर प्रदेश के जिला इटावा (सैफई) में हुआ था। अखिलेश यादव Mulayam Singh Yadav की पहली पत्नी मालती देवी के पुत्र हैं।  मुलायम सिंह यादव की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता है।  प्रतीक यादव उनके सौतेले भाई हैं।

शिक्षा

अखिलेश यादव की शुरुआती शिक्षा धौलपुर मिलिट्री स्कूल राजस्थान में हुई है। इन्होंने अपनी ऊंची शिक्षा के लिए मैसूर विश्वविद्यालय और उसके बाद सिडनी विश्वविद्यालय में पढ़ाई किया है।  इन्होंने  ऑस्ट्रेलिया में मास्टर की डिग्री पर्यावरण इंजीनियरिंग में हासिल की है।

अखिलेश यादव का व्यक्तिगत जीवन (Akhilesh Yadav Wife, Family, Daughter, Son)

शिक्षा हासिल करने के बाद अखिलेश यादव अपने पिताजी मुलायम सिंह यादव से राजनीति की बारीकियां सीखी। कीं

अखिलेश यादव जी की शादी 24 नवंबर 1999 को डिंपल यादव के संग हुई।

इनकी दो पुत्रियां हैं जिनका नाम आदित्य यादव और टीना यादव है।

 इनके बेटे का नाम अर्जुन यादव है। सपरिवार लखनऊ में रहते हैं।

अखिलेश यादव का राजनीतिक सफर

राजनीतिक सफर के बारे में यहां बता रहे हैं। अखिलेश यादव का निकनेम टीपू है।

  • पेशा- भारतीय राजनेता
  • वर्तमान में राजनीतिक पार्टी समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो हैं।
  • राजनीतिक सफर सन 2000 के उप-चुनाव से शुरू किया कन्नौज लोकसभा के लिए चुने गए।  इस तरह वे 13वीं लोकसभा के सदस्य चुने गए।
  • 2004: लोकसभा चुनावों में 14वीं लोकसभा  का चुनाव जीता।
  • 2009: आम चुनाव में 15वीं लोकसभा के सदस्य चुने गए।
  • 10 मार्च 2012 को अखिलेश यादव को समाजवादी पार्टी के प्रमुख चुना गया। 15 मार्च 2012 को, वह 38 वर्ष की आयु में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने।
  • मई 2019 में लोकसभा चुनावमैं अखिलेश यादव ने आजमगढ़ लोकसभा  सीट पर विजई रहे।

मुख्यमंत्री के रूप में अखिलेश यादव के महत्वपूर्ण कार्य

2012 की विधानसभा की सीट पर इनकी पार्टी को बहुमत मिला और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बने उन्होंने यादगार काम किए। उत्तर प्रदेश में सड़क, बिजली, पानी आदि की व्यवस्था कराई।

इनकी कई योजनाएं आज भी लागू है,  जिसकी तारीफ होती है। सड़क निर्माण कार्य में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे बड़ी उपलब्धि है। यह भारत की अत्याधुनिक एक्सप्रेस सड़क है। डायल-100, समाजवादी पेंशन, एंबुलेस फ्री सेवा के साथ ही उत्तर प्रदेश में पहला लखनऊ में मेट्रो ट्रेन चलाने का श्रेय इनको जाता है। लखनऊ इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम इन्हीं के कार्यकाल में बना है।

अखिलेश यादव के रोचक तथ्य

आइए आपको बताते अखिलेश यादव से संबंधित रोचक जानकारियां जो आपको अच्छी  लगेगी। 

अखिलेश यादव को फुटबॉल खेलने का बहुत शौक है।

 लखनऊ का  शानदार  अत्याधुनिक क्रिकेट स्टेडियम बनवाया। 

खेलने के अलावा संगीत सुनना बहुत अच्छा लगता है।

 अखिलेश यादव की  राजनीतिक प्रतिद्वंदी बहुजन समाजवादी पार्टी की सुप्रीमो मायावती थी लेकिन अब भाजपा है।

अखिलेश यादव मीडिया के सवालों का जवाब बहुत ही शानदार तरीके से देते हैं और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं हौसला अफजाई अपना चुनाव चिन्ह साइकिल चलाकर भी करते हैं।

इनके मन पसंदीदा नेता राम मनोहर लोहिया हैं।

अखिलेश यादव कंट्रोवर्सी

राजनीति में एक दूसरे पर वाद विवाद राजनीतिक दलों द्वारा लगता रहता है। इस कारण से राजनीतिक कंट्रोवर्सी जुड़ जाती है।

सन 2013 में आईएएस अधिकारी दुर्गा शक्ति नागपाल के निलंबन के कारण अखिलेश यादव विवादों में रहे।

 2014 में बॉलीवुड फिल्म पीके की  पायरेटेट डिजिटल कॉपी डाउनलोड करके देखने  का आरोप भी लगा था, जिस पर एफ आई आर दर्ज हुई थी।

2016-17 में अखिलेश यादव और उनके पिता मुलायम सिंह यादव के भी कहासुनी की भी खबरें आई, जिसमें समाजवादी पार्टी के कार्यक्रम में स्टेज के दौरान मुलायम सिंह से माइक छीनते हुए का वीडियो भी खूब वायरल हुआ था।

अखिलेश यादव से जुड़े प्रश्न उत्तर

अखिलेश यादव ने मास्टर की डिग्री कहां से हासिल की?

उत्तर: मास्टर की डिग्री यानी पोस्टग्रेजुएट पर्यावरण इंजीनियरिंग में ऑस्ट्रेलिया से किया था।

अखिलेश यादव के सौतेले भाई का क्या नाम है?

उत्तर- अखिलेश यादव के सौतेले भाई का नाम प्रतीक यादव है।

अखिलेश यादव की कितनी बेटियां हैं?

उत्तर- अखिलेश यादव की दो बेटियां हैं। आदित्य यादव और टीना यादव है।

उत्तर प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री होने का श्रेय किसे जाता है?

उत्तर- यूपी के युवा मुख्यमंत्री होने का श्रेय अखिलेश यादव को जाता है। (Youth chief Minister of up)

अखिलेश यादव की हाइट कितनी है?

उत्तर-अखिलेश यादव की हाइट 1.7 मीटर है।

अखिलेश यादव के ससुर कौन है?

उत्तर- अखिलेश यादव के ससुर यानी कि पत्नी डिंपल यादव  के पिता कर्नल रावत  उत्तराखंड के उधमसिंह नगर के मूल निवासी हैं।

अखिलेश यादव 2022 विधानसभा चुनाव

विपक्ष की राजनीति इस समय अखिलेश यादव कर रहे हैं क्योंकि उत्तर प्रदेश में उनकी सरकार नहीं है। 2017 के चुनाव में बहुमत न मिलने के कारण मुख्यमंत्री दोबारा नहीं बन सके। 2022 के इस विधानसभा चुनाव में वे कड़े प्रतिद्वंद्वी के रूप में भाजपा के सामने खड़े हैं।

 भारतीय राजनीति में अखिलेश यादव मंझे हुए खिलाड़ी नजर आ रहे हैं। उनके मुख्यमंत्री काल में कई तरह के आरोप भी लगते रहे- जैसे भाई भतीजावाद और जातिवाद का।

लेकिन इसके साथ ही उनके किए गए काम को भी सराहा गया। जिसमें लखनऊआगरा एक्सप्रेस और लखनऊ का क्रिकेट स्टेडियम जैसी कई सौगात उत्तर प्रदेश को मिला है।

एक पढ़े-लिखे युवा होने के नाते उनके राजनीतिक सफर में पिछला 5 साल का सफर और  उनका अनुभव आने वाले समय में उनकी राजनीतिक परिपक्वता  मजबूत बना रही है।  भारतीय जनता पार्टी को कई मुद्दों पर जैसे महंगाई, बेरोजगारी, कानून व्यवस्था पर घेर रहे हैं।  अखिलेश यादव के राजनीतिक सफर उज्जवल है, भारतीय राजनीति में कई तरह के बदलाव देखने को भी मिलेंगे जिसमें अखिलेश यादव के महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है।

साधना अजबगजबजानकारी की एडिटर और Owner हूं। मैं हिंदी भाषा में रूचि रखती हूं। मैं अजब गजब जानकारी के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हूं | मुझे ज्यादा SEO के बारे में जानकारी तो नहीं थी लेकिन फिर भी मैने हार नहीं मानी और आज मेरा ब्लॉग अच्छे से काम कर रहा है।

1 COMMENT

  1. नमस्कार साधना आपने बहुत ही सुन्दर टेडी बीयर पर शायरियां शेयर की हैं। आप भविष्य में भी ऐसे ही काम करते रहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here