मतदाता जागरूकता दिवस पर निबंध व भाषण

0
282
National Voters Day in Hindi

National Voters Day ( Matdata Jagrukta Abhiyan ) & Matdan Jagruti Nibandh व Matdata Diwas Speech in hindi 2019 मतदाता जागरूकता दिवस अभियान पर निबंध व भाषण

National Voters Day in Hindi – भारत में प्रत्येक वर्ष भारतीय निर्वाचन आयोग स्थापना दिवस (Indian Election Commission Foundation Day) 25 जनवरी को मनाया जाता है. भारत सरकार ने लोगों को जागरूक करने व भागीदारी बढ़ाने के लिए वर्ष 2011 से 25 जनवरी को ही राष्ट्रीय मतदाता दिवस ( National Voters Day ) मनाने की शुरूआत की थी, इसके बाद प्रत्येक वर्ष इसी दिन राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है.

इसे भी पढ़ेंमतदान जागृति स्लोगन हिंदी में

भारतीय निर्वाचन आयोग का गठन कब हुआ? When was the Election Commission of India formed?

आप सभी जानते ही होंगे कि भारत में जितने भी चुनाव होते हैं, उनको निष्पक्ष बिना किसी भेदभाव के सम्पन्न कराने की जिम्मेदारी भारत निर्वाचन आयोग (Election Commission of India) की होती हैं. भारतीय निर्वाचन आयोग का गठन 25 जनवरी 1950 को यानि भारतीय संविधान के लागू होने से 1 दिन पहले किया गया था.

आखिर भारतीय संविधान के लागू होने के 1 दिन पहले क्यों इसका गठन किया गया?

26 जनवरी 1950 को भारत एक गणतांत्रिक देश बनने जा रहा था और भारत में लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं से चुनाव कराने के लिए निर्वाचन आयोग का गठन भारतीय संविधान लागू होने से पहले किया जाना आवश्यक था. यही कारण था की 25 जनवरी 1950 को भारत निर्वाचन आयोग का गठन किया गया था.

राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाने का उद्देश्य- Purpose of Celebrating National Voters Day in Hindi

राष्ट्रीय मतदात दिवस ( Rashtriya Matdata Diwas ) मनाने का मुख्य उद्देश्य है, मतदाता जागरूकता अभियान ( Matdata Jagrukta Abhiyan ) चलाकर लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करना जिससे देश की राजनीतिक प्रक्रियाओं में लोगों की अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित हो सके. इस दिन देश में सभी सरकारों व विभिन्न सामाजिक संस्थाओं द्वारा लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए विभिन्न सास्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन कर लोगों को मतदान के प्रति जागरूक किया जाता है.

यह दिवस भारत के प्रत्येक नागरिक के लिए बहुत ही अहम है. हम सब भारतीयों का कर्तव्य है कि इस दिन इस बात की शपथ लें कि अपने राष्ट्र निर्माण के लिए प्रत्येक चुनाव में बढ़चढ़ कर हिस्सेदारी लें, क्योंकि हमारा एक-एक वोट ही देश के भविष्य की नींव रखता है. इसलिए हमारा कर्तव्य है कि हम कि हम अपने कर्तव्यों को समझते हुए उसका सही जगह उपयोग कर राष्ट्र निर्माण में भागीदारी तय करें.

भारत के प्रत्येक नागरिक का मतदान प्रक्रिया में अपना योगदान देना बहुत जरूरी है, क्योंकि आम आदमी का एक वोट ही सरकारें बदल देता है. हमारा एक वोट एक अच्छे प्रतिनिधि या बेकार प्रतिनिधि को चुन सकता हैं. इसलिए हमे बहुत ही समझ और सोच-विचार के अपने मत का प्रयोग करते हुए एक अच्छे प्रतिनिधि को चुनना चाहिए जोकि हमारे समाज और देश को विकास और तरक्की की ओर ले जा सके.

आपको बता दें कि हमारे देश में युवाओं की हिस्सेदारी 65 प्रतिशत है, इसलिए कोई भी चुनाव हो उसमें युवाओं को बढ़-चढ़ कर भाग लेना चाहिए और ऐसी सरकारों को चुनना चाहिए जो जातिवाद और सांम्प्रदायिकात से ऊपर उठकर देश को प्रगति की ओर ले जाने के बारे में सोचें. जिस दिन हम युवाओं ने यह ठान लिया, समझो उस दिन देश से से ऊंच-नीच, जातिवाद, नस्ल, धर्म, समुदाय व सांप्रदायिक भेदभाव खत्म हो जाएगा. और यह सब तभी हो सकता हैं जब हम शत-प्रतिशत अपने मत का प्रयोग करेंगे.

हालांकि काफी संख्या में हम लोग इन सभी बातों को नजरअंदाज करके आज भी सांमप्रदायिक, भाषा व जातिवाद के आधार पर वोट देते है, जिससे कई अपराधिक प्रवृति के लोग संसद और विधानसभाओं में चुनकर चले जाते हैं. जिसका परिणाम हम सभी को व हमारी आने वाली पीढ़ी को भुगतना पड़ता है.  इसलिए हम-सभी का यह कर्तव्य है कि हम सांप्रदाययिक और जातीय आधार से ऊपर उठकर एक साफ-सुथरी छवि वाले प्रतिनिधि को अपना मत देकर प्रतिनिधित्व करने का दायित्व सौपें.

तो आज हम सभी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के मौके पर इस बात का संकल्प लेना चाहिए कि अपने मत के माध्यम से लोकतंत्र को मजबूत बनाएं.

दोस्तो मुझे उम्मीद है कि आपको मतदाता जागरूकता दिवस ( Matdata Jagrukta Abhiyan in Hindi) के बारे Matdan Jagruti Nibandh व Matdata Diwas Speech in hindi पसंद आयी होगी. उम्मीद है कि आप इस जानकारी को अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें, जिससे वह भी जागरूक हों.

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here