पृथ्वी शॉ का जीवन परिचय..

3
184

Prithvi shaw biography in hindi– पृथ्वी शॉ जो कि भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम के कप्तान हैं। उनका घरेलू मैचों में लगातार बेहतरीन प्रदर्शन रहा है, उन्हे पॉपुलर्टी इसी साल न्यूजीलैंड में आयोजित अंडर -19 विश्वकप मैचों में दमदार कप्तानी को लेकर ऱाष्ट्रीय ही नहीं बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मिली। उनके लगातार अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए उन्हे आईपीएल 2018 में भी जगह मिली. उन्हे दिल्ली डेयरडेविल्स ने 1.2 करोड़ रूपये में खरीदा हैं. आइये आज हम प्रथ्वी शॉ के जीवनी ( Prithvi shaw biography in hindi ) के बारे में जानते हैं।

Under19 Team Capten Prathvi Shaw

पृथ्वी शॉ का जीवन परिचय व महत्वपूर्ण जानकारियां (Prathvi Shaw Short Biography information in hindi)

पूरा नामपृथ्वी पंकज शॉ
जन्म9 नवम्बर, 1999 / ठाणे, महाराष्ट्र
पेशाक्रिकेटर

 

इसे भी पढ़ें– अंजिक्य रहाणे का जीवन परिचय

पृथ्वी शॉ की व्यक्तिगत जीवन- Personel Life of Prathvi Shaw in Hindi

पृथ्वी शॉ का जन्म 1999 में एक साधारण परिवार में हुआ था. उनके पिता का नाम पंकज शॉ हैं जिन्होंने पृथ्वी को क्रिकेटर बनाने में बहुत मदद की यहां तक कि अपना व्यापार छोड़कर दिन रात पृथ्वी के क्रिकेट कैरियर को लेकर काम करते रहे. Prathvi Shaw ने वाल्यावस्था में ही बहुत कठिन परिस्थितियों से सामना किया है क्योंकि कोई भी बच्चा जिसकी माँ बचपन में ही उससे बिछड़ जाये उस पर क्या गुजरती है उसके अलावा कोई नहीं समझ सकता, ऐसा ही पृथ्वी के साथ हुआ जब पृथ्वी महज 4 साल के थे तभी उनकी माँ का निधन हो गया था। जिसके बाद उनके पिता ने कभी भी पृथ्वी की माँ की कमी महशूस नहीं होने दी, उन्होंने अकेले ही परवरिश की।

पृथ्वा शॉ की प्रारम्भिक शिक्षा मुंबई के ए.वी. एस. विद्यामंदिर और रिज़वी स्प्रिंगफील्ड हाईस्कूल से की और वर्तमान में वह रिज़वी कॉलेज ऑफ आर्ट्स,साइंस और कॉमर्स से अपनी पढ़ाई कर रहे हैं।

prathvi shaw

पृथ्वी शॉ का कैरियर- Prathvi Shaw Career in Hindi

पृथ्वी ने मुंबई के सहारा परिसर बीरां में अपने कैरियर की शुरूआत की थी. यहां बीरां टूर्नामेंट में मुंबई की ओर से  धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए शॉ ने जीत दिलाई थी. शॉ ने मंबई के एमआईजी क्लब में कोचिंग ली, इस कोचिंग में देश के होनहार बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर अभ्यास करत थे। इस क्लब में पृथ्वी ने रीगल मैदन में प्रशिक्षक पिंलकुंगार की देखरेख में प्रशिक्षण प्राप्त किया।

पृथ्वी शॉ एक बहुत ही मेहनती खिलाड़ी हैं जिसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि उन्होंने दिलीप ट्राफी में सबसे कम उम्र में ही शतक बनाकर एक बहुत ही महत्वपूर्ण रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. शॉ ने 2017 में एक मैच में इंडिया रेड टीम की तरफ से बल्लेबाजी करते हुए 154 रन बनाये थे, उस वक्त शॉ की आयु महज 17 साल थी और सबसे महत्वपूर्ण बात यह थी कि यह उनका डेब्यू मैच था। शॉ से पूर्व यह रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम था।

वर्ष 2013 में हैरिस शिल्ड मैच जिसे वह रिजवी स्प्रिंगफील्ड की तरफ से खेल रहे थे, उसमें शॉ ने 330 गेंदो पर 556 रनों का विशाल स्कोर बनाया था. यह मैच उनके कैरियर के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हुआ। उनके इस प्रदर्शन को देखते हुए कई महान खिलाड़ियों ने पृथ्वी शॉ की प्रशंसा की थी।

पृथ्वी शॉ के खेलने के स्टाइल को देखकर उनकी तुलना सचिन तेंदुलकर से करते हैं. लोगों का मानना है कि भविष्य के सचिन तेंदुलकर हैं पृथ्वी शॉ।

पृथ्वी शॉ के कोच राहुल द्रविण हैं. बतौर कोच राहुल शॉ को बेहतरीन खिलाड़ी बनाने के लिए बहुत मेहनत कर रहे हैं।

निवेदन: यदि आपको Prithvi shaw biography in hindi पसंद आयी हो तो इसे अपने facebook Friends के साथ जरूर शेयर करें।

Tag: Prithvi shaw biography in hindi, Prathvi shaw Career, IPL 2018,  पृथ्वी शॉ की जीवनी, पृथ्वी शॉ का जीवन परिचय, Under19 Team Capten

इसे भी पढ़ें-

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

loading...

3 COMMENTS

  1. Prthivi Shaw is a promising young cricketer and captain of Under-19 cricket team India. Though I am from Pakistan yet I am a huge fan of this cricketer, and His recent performance in IPL was not bad at all.
    Thanks for sharing such a nice post on his lifestyle.
    ~Shabir

  2. Bahut hi kam umra me bahut jaldi prasidhi prapt karne waale naamon me se ek hain Prathvi shaw
    bahut hi achhi jaankari inke baare me jaankar achha laga.
    Shukriya jaankari sajha karne ke liye.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here