Home Uncategorized हॉप शूट्स सब्जी क्या है? यह क्यों इतनी महंगी बिकती है और...

हॉप शूट्स सब्जी क्या है? यह क्यों इतनी महंगी बिकती है और जानें औषधीय गुणों के बारे में

0
65
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

हॉप शूट्स सब्जी क्या है? यह क्यों इतनी महंगी बिकती है और जानें औषधीय गुणों के बारे में

Advertisement
Hop Shoots Kya Hai:

दुनिया की सबसे महंगी सब्जी कौन सी है? क्या बता सकते हैं? उसकी कीमत कितनी हो सकती है? तो दोस्तों दुनिया में सबसे महंगी सब्जियों में एक नाम है हॉप शूट्स का जो ₹1 लाख किलोग्राम भारत में बिकता है। जिसके सामने इसे उगाया उसे छप्पर फाड़ के पैसा मिला है। आइए इस सब्जी के बारे में और ज्यादा जानकारी हासिल करते हैं।

Hop Shoots सब्जी क्या है?

हरे रंग की दिखने वाली करेले की तरह लेकिन यह बड़ी गुणकारी सब्जी है। इसकी खोज 11वीं शताब्दी में की गई थी। हॉप शूट्स की सबसे पहले खेती उत्तरी जर्मनी के किसानों द्वारा शुरू की गई थी। आपको बता दें कि इसकी खेती बियर के स्वाद को बैटिंग करने के लिए किसानों द्वारा किया गया था। 1710 इसी में इंग्लैंड से सांसद हॉर्सलेस पर टेक्स्ट लगाया और कहां की बीयर बनाने में हाफ का इस्तेमाल होना अनिवार्य है। बियर के स्वाद बढ़ाने में सब्जी के रस का इस्तेमाल होता है।

Hop Shoots Vegetable सब्जी के फायदे

Hop Shoots सब्जी में एक खास तरह का एसिड पाया जाता है। एसिड ह्यूमोलोन्स (Humulones) और ल्यूपोलोन्स (Lupulones) कैंसर सेल को मारने में कारगर साबित होता है।

इसमें औषधि गुण पाए जाते हैं कैंसर से लड़ने के लिए दवाएं भी इससे बनाए जाते हैं। अब इस सब्जी का उपयोग हर्बल मेडिसिन के साथ-साथ खाने में भी उपयोग किया जाने लगा है। Hop Shoot Vegetable सब्जी को खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बहुत तेजी से बढ़ती है।

इसकी टहनियों का उपयोग सलाद में मिलाकर खाने के लिए भी लोग इस्तेमाल करते हैं। इस सब्जी का अचार जो बनाकर खाया जाता है जो कि बहुत ही स्वादिष्ट और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाला अचार कहलाता है।

Hop Shoots यह क्यों इतनी महंगी बिकती है?

अपने औषधि कैंसर गुण के कारण यह सब्जी दुनिया के मार्केट में सबसे महंगी मिलती है। यह बड़ी विषम परिस्थितियों में उगाई जाती है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में इस सब्जी की डिमांड है और इस सब्जी को खास दिमाग पर ही सप्लाई किया जाता है। वर्तमान में सब्जी की कीमत ₹1 लाख प्रति किलोग्राम है। अपने मेडिसिन क्वालिटी के कारण यहां दवा का काम करता है।

बीयर में फ्लेवरिंग एजेंट के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। कैंसर सेल से लड़ने की क्षमता और उसे खत्म करने की इसकी काबिलियत के कारण यह सब्जी इसीलिए पूरी दुनिया में बहुत महंगी है।

क्या Hop Shoots सब्जी की खेती भारत में होती है? Hop Shoots खेती करने वाले भारत के पहले किसान का क्या नाम है?

भारत में प्रयोग के तौर पर कुछ किसानों ने इस सब्जी को उगाया है और बहुत ही बड़ी सफलता हासिल की है। लेकिन बिहार के एक ऐसे किसान है जो इस सब्जी की खेती सबसेपहले 2015 उन्होंने की है। उन्होंने कृषि वैज्ञानिकों से इसके उगाने के लिए मदद भी ली है। बिहार के औरंगाबाद जिले के नवीनगर ब्लॉक में रहने वाले कर्मी गांव के 38 साल के युवा किसान अमरेश सिंह भारत के ऐसे पहले व्यक्ति हैं जिन्होंने Hop Shoots की खेती की है। 5 साल से लगातार खेती करके उन्होंने लाखों रुपए कमाए हैं। अगर अगली बार आपसे कोई पूछे खेती में क्या फायदा होता है तो जाहिर है आपको बिहार के इस जांबाज किसान अमरेश सिंह का नाम जरूर याद रहेगा।

Hop Shoots के औषधीय गुण क्या क्या है?

● Hop Shoots हर्बल मेडिकल औषधीय गुण वाली सब्जी है। इसमें खास तरह का एसिड होता है जो कैंसर कैसे उसको मार कर खत्म कर देता है।
● बियर के स्वाद बढ़ाने के औषधीय गुण में इसका उपयोग होता है।
● इससे अलग अलग तरह की खास दवाइयां बनाई जाती है। एंटी बायोटिक दवाइयां बनाने में Hop Shoots सब्जी का इस्तेमाल होता है।
● हॉप का इस्तेमाल जड़ी-बूटी बनाने के लिए भी होता है।
● इस सब्जी का इस्तेमाल से दांत का दर्द व टीबी ऐसे बीमारियों में मेडिसिन के रूप में उपयोग किया जाता है। इसे बेहतरीन तरह की एंटीबायोटिक बनाई जाती है जो मेडिकल प्रमाणित है।

Advertisement

Hop Shoots सब्जी की खेती कैसे होती है?

अमेरिका में सब्जी की बहुत डिमांड है क्योंकि वहां पर दवाई और बीयर में इसे डालने के लिए उपयोग किया जाता है। इसकी खेती करने के इनवेस्ट करके अपने पांच कट्ठा खेत में हॉप शूट्स की खेती करने में 6 से 5 महीने का समय लग जाता है। हर साल 35 से 40 लाख रुपए की कमाई आसानी से किसान इसकी खेती करके कर लेता है। इस सब्जी के बिल्कुल बारीकी फूल होते हैं, जिसे हॉप कोन्स कहते हैं। हॉप कोन्स की प्रति कट्ठा पैदावार सिर्फ आधा किलोग्राम होती है। लेकिन इसकी अधिक कीमत होने के कारण बड़े पैमाने पर खेती करने पर हर साल 35 से 40 लाख रुपए आसानी से किसान इसकी खेती करने से कमा सकता है।

Advertisement

NO COMMENTS