शास्त्रों के अनुसार पति-पत्नी को इन दिनों नहीं बनाने चाहिए शारीरिक संबंध वरना..

0
175

ब्रह्मवैवर्तपुराण पुराण में कुछ ऐसे दिनों के बारे में जिक्र किया गया हैं, इन दिनों पति-पत्नी को एक-दूसरे के करीब नहीं आना चाहिए। इन दिनों पति-पत्नी को किसी भी प्रकार में शारीरिक संबंध बनाना अशुभ माना गया हैं। इन दिनों ऐसा करने से बुरे परिणामों का सामना करना पड़ सकता हैं। आइये जानते हैं किन-किन दिनों पति-पत्नी को एक दूसरे से शारीरिक संबंध नहीं स्थापित करना चाहिए…

1-अमावस्या

हिन्दु शास्त्रों के अनुसार अमावस्या के दिन पति और पत्नी को एक –दूजे से किसी भी प्रकार का शारीरिक संबंध नहीं बनाना चाहिए। ऐसा करना उनके विवाहित जीवन पर नकारात्मक प्रभाव डालता हैं।

2-पूर्णिमा की रात

पूर्णिमा की रात भी पति-पत्नी को शारीरिक रिश्ता नहीं बनाना चाहिए, इस रात भी विवाहित जोड़े को एक दूसरे से दूर रहना चाहिए।

3-संक्रांति

sankranti

संक्रांति के समय भी पति-पत्नी का एक दूसरे के नजदीक आना अच्छा नहीं होता हैं। इस समय एक दूसरे से अलग रहना ही हितकारी होगा।

4-चतुर्थी व्रत

Ganesh-Chaturthi

यदि तिथियों की बात की जाये तो चतुर्थी और अष्टमी तिथि पर विवाहित जोड़े को एक-दूसरे से दूरी बनाकर रहना चाहिए।

5-श्राद्ध या पितृ पक्ष

Pinda_Daan

श्राद्ध या पतृ पक्ष चल रहे हों तब भी विवाहित जोड़े को एक दूसरे से संबंध बनाने के बारे में नहीं सोचना चाहिए।

6-व्रत

जिस दिन पति या पत्नी दोनों में से कोई भी व्रत रखता हैं, उस दिन उनको विशेष सावधानी वरतनी चाहिए , भूलकर भी उस दिन शारीरिक रिश्ते नहीं बनाने चाहिए।

7-नवरात्र

navratri-wallpaper

हिन्दु धर्म में नवरात्र के दिन सबसे पवित्र दिनों में गिने जाते हैं। इन दिनों भी विवाहित दंपति को शारीरिक संबंध नहीं बनाना चाहिए।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here