रिपोर्टर ने पूछा दिवाली अयोध्या में और होली मथुरा में तो अब ईद कहाँ मनाओगे,योगी ने दिया रिपोर्टर को करारा जवाव

0
1233
source
source

होली आने में अब कुछ दिन ही बाकी रह गए है। लेकिन आप सब जानते ही है भगवान् श्री कृष्ण की नगरी में होली का अपना एक अलग ही महत्व होता है। मथुरा में आज होली का आगाज हो चूका है और इस आगाज की शुरुआत में शामिल होने पहुंचे सूबे के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी। और आपको पता होना चाइये की मथुरा में होने बाली होली का आनंद उठाने लोग देश विदेश से आते है। पुरे मथुरा में होली लगभग चालीस दिन तलक चलती है। एक और बात बता दे आपको योगी आदित्यनाथ श्री कृष्ण जन्म भुमि पर जाने बाले पहले मुख्यमंत्री है।

जब सुबह सुबह मथुरा प्रशाशन को ये खबर लगी की बरसाने मिशन होने बाली लट्ठमार होली मैं शामिल होने के लिए सूबे के मुख्यमंत्री खुद आ रहे है तब प्रशाशन ने मंदिर परिषर में सुरछा को लेकर चाक चौबंद किये। इसी लिए जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ श्री कृष्ण जन्म भूमि पहुंचे तब उनके मंदिर मैं दर्शन करने तक के समय मैं प्रशाशन की तरफ से श्रद्धालुओं के लिए पिछले बाले गेट को बंद कर दिया गया और बन्हा से किसी को भी जाने की इजाजत नहीं दी गई। आपको बता दे सूबे के पहले मुख्यमंत्री है योगी आदित्यनाथ जिन्होंने भगवान् श्री कृष्णा की जन्म भूमि मथुरा में दर्शन किये।

source
source

सूबे के मुख्यमंत्री श्री कृष्ण जी के दर्शन करने के लिए सुबह सुबह ही मंदिर पहुँच गए। और उन्होंने मंदिर परिसर में लगभग अपना आधा घंटा ब्यतीत किया और गर्भ गृह में पूजा करने के बाद उन्होंने मंदिर की सुरच्छा ब्यबस्था का जायजा भी लिया। उन्होंने कहा है की मथुरा श्री कृष्ण जी की जन्म भूमि भी है और उनकी लीला भूमि भी तो इस लिए बह यंहा बार बार आते रहेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा है की बह मथुरा में लगभग दो दिन रुकेंगे और होली मैं के समय होने बाले कुछ आयोजन का हिस्सा भी बनेगे।

source
source

श्री कृष्णा जन्म भूमि दर्शन करने के बाद मंदिर की सुरच्छा ब्यबस्था का जायजा भी लिया योगी आदित्यनाथ ने ,उन्होंने मंदिर की सुरच्छा ब्यबस्था को लेकर चिंता जताई। उन्होंने कहा है की मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरे में ड्रोन नहीं है जो बैरिकेड सुरक्षाकर्मियों के लिए है, और बह भी अब काफी पुराने हो चुके है। इसकी बाद उन्होंने कहा इन सब को जल्द से जल्द सही किया जाना चाइये और इसके अतिरिक्त श्रद्धालुओं की सुरच्छा को लेकर किसी भी तरह की नरमी नहीं बरतनी चाइये। मंदिर दर्शन करने के बाद उन्होंने सुरच्छा को लेकर कुछ जरूरी दिशा निर्देश दिए है।

source
source

सूबे के मुखयमंरी जब मंदिर दर्शन करके बापिस आये तब पत्रकारों ने उनसे कई तरह के अलग अलग सवाल भी किये। एक पत्रकार ने जब उनसे पूछा की आपने दिवाली अयोध्या में ,और होली बरसाना में तो अब आप ईद कहा मनाएंगे। इस सवाल का जवाव देते हुए उन्होंने पत्रकारों से कहा की में एक हिन्दू हूँ और हिन्दुस्तान के अंदर हर किसी को अपनी धार्मिक स्वतंत्रता को मनाने और उनसे जुड़े त्योहारों का मनाने का पूरा हक़ है। और बह अधिकार मुझे भी प्राप्त है। इसके बाद भी माने पिछले 1 महीने से आज तलक किसी मुश्लिम को ईद और क्रिस्चन को क्रिश्मस मनाने से नहीं रोका क्यूंकि अपने धर्म को मानने और सके त्यौहार मनाने का अधिकार सब को है। सीएम योगी ने कहा कि “दीपोत्सव अयोध्या में, देव दीपावली काशी में, रामायण मेला चित्रकूट में , कुंभ प्रयागराज में और होली बरसाना में ही होगी. वहां हम लोग जायेंगे. हमें अपनी परंपरा और विरासत पर गौरव की अनुभूति है। और हम अपनी इस अनुभूति और गर्ब को बनाये रखेंगे।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here