खुलाशा : अरविन्द केजरीवाल का अंतर्राष्ट्रीय ईसाई मिशनरियों के साथ सम्बन्ध : कपिल मिश्रा

0
214
source
source

आज एक बार फिर से ये बात प्यूरी तरह से साबित होती दिख रही है ,की बह दिन दूर नहीं जब कुछ लोगो की बजह से एक बार फिर किसी मिसनरी का हिस्सा होने के लिए मजबूर किया जायेगा। इस देश के अंदर अपने लोग ही अपनों को बेचने पर तुले हुए है। आज एक बार फिर से अरविन्द केजरीवाल और कमाल हासन पर जो कुछ भी खुलाश हुआ है उसे देखने के बाद आप के होश उड़ना तय है। ये सब देख कर एक बार के लिए आप दंग रह सकते है की हमारे ही देश में हमारे ही खिलाफ साजिश ये कहा की राजनीति हो रही है इस देश में। इन्ही पर आपको एक और बात बता देता हूँ की मानो या मानो अरविन्द केजरीवाल जैसे फोर्ड फॉउंडेशन और ईसाई मिसनरियो का एजेंट रहे है।

आज बह दिन सबके सामने आ गया है जब लोगो ने इस मामले पर तीखे आरोप अरविन्द केजरीवाल पर लगाने सुरु कर दिए है। देश के अंदर आबाज सुरु होती दिख रही है। सबसे पहला काण्ड दिल्ली के मुख सचिब को पीटना फिर उसके बाद अब ये काण्ड ये सब देखने के बाद ये ही लगता है की ये साहब मुख्यमंत्री कम कर्म काण्ड में निपुण ज्यादा दिख रहे है। अरे भाई ये सब हम नहीं खुद उनकी ही पार्टी के पूर्ब साथी ने उनके ऊपर लागए है। की बह किस तरह से ईसाई मिशनरी को भारत के अंदर बढ़ाबा देने पर तुले हुए है।

 

आज जिस तरह से अरविन्द केजरीवाल पर खुलाशा हुआ है और जिस तरह से कपिल मिश्रा ने उनके ऊपर ईसाई मिशनरी में शामिल होने का आरोप लगाया है उससे तो यही लगता है की दक्षिण भारत में एक बार फिर से अरविन्द केजरीवाल ईसाई मिशनरियों के साथ मिल कर आग लगाने की कोसिस करेंगे। कमल हसान की पार्टी की पूरी पूरी फंडिंग इशाई मिशनरियों के द्वारा की जा रही है। यंही पर हमको एक और बात बता देते है की आज कमल हसान ने एक नई राजनैतिक पार्टी की शुरुआत की है। जिसका नाम उन्होंने मल्लक निधि मैयाम रखा है ,

 

अब आप लोगो को इनकी पार्टी से सम्बंधित हुए कुछ खुलाशो के बारे में बता देते है। तो कमल हसान के द्वारा सुरु की गई इस पार्टी का नाम है मल्लक निधि मैयाम और इस पार्टी की वेबसाइट केमन आइलैंड मैं रजिस्टर की गयी है। केमन आइलैंड के बारे में आपको बता दे केमन आइलैंड आपके काले धन के लिए प्रसिद्ध है। यही से सभी तरह की इशाई मिशनरिया ईसाइयत को और अधिक दुनिया भर में फैलाने के लिए फंडिंग करती है। साथ ही “क्रिस्चियन मीडिया सेण्टर” नाम की संस्था का रजिस्ट्रेशन पता है – “47 एल्डमस रोड, चेन्नई”, और आपको यह जान कर बिलकुल भी आश्चर्य नहीं होगा कि इस प्रॉपर्टी के मालिक खुद कमल हसान है।

 

ये बही मीडिया सेण्टर है जो दक्षिण भारत के अंदर ईसाई संगठन और चर्चो के लिए फंडिंग जुटाने का काम भी करती है। यानी की कमल हसन और फोर्ड फॉउंडेशन का एक मिला जुला संघठन है। और इसी कारण आज केजरीवाल खुद कमल हसान की पार्टी के लॉन्च समारोह में भी नजर आये।

अब लगता तो ऐसा है की अब दक्षिण भारत के अंदर हिन्दुओ के खिलाड़ ,और हिंदी के खिलाफ एक अलग ही अभियान चला जायेगा। और अब ये सभी लोग मिल कर दक्षिण भारत और उत्तर भारत के बीच दरार पैदा करेंगे। इनका मूल मकसद है तमिलनाडु का ईसाईकरण और हिन्दुओ का सफाया और दक्षिण भारत में भारत के प्रति नफरत पैदा करना अलगाव बाद की राजनीति कर अपनी रोटी चलना।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here