5000 करोड़ के लूट में जमानत पर चल रहे आरोपी से हाथ मिलाते PM ,पासपोर्ट होना चाहिए जब्त

0
1847
source

भारत के प्रधान मंत्री से हाँथ मिला रहे इस सख्श को आज हर कोई जनता है। और अब तो यह सख्स देश की सबसे पुरानी पार्टी यानी की कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यछ भी बना दिए गए है। यार हमें कोई घर का चौकी दार नहीं बनाता है और जिनके नाम पर लोग चुटकुले बना रहे है उन्हें लोग सबसे पुरानी पार्टी का अध्यछ बना रहे है। और यह बही पार्टी है जो स्वम को गांधी के बिचारो पर चलने बाली पार्टी बताती है। ऐसा हम नहीं कांग्रेस कहती है। मगर कांग्रेस एक बात भूल जाती है जिनके आदर्शो पर यह चलने की बात कहते रहते है।

उन्ही महत्मा गाँधी ने कहा था। देश आजाद हो गया है अब कांग्रेस की कोई जरूरत नहीं है। इसी बंद कर देना चाइये। तो यह बात आज तलक किसी भी कांग्रेसी के कानो मैं नहीं पड़ी उसका सीधा सा मकसद था की देश आजाद होने के तुरंत बाद बिना किसी दखल के इतने बड़े देश का प्रधान मंत्री बनना और इसके बाद उसके खानदान के आने बाले बच्चो का जन्म सिद्ध अधिकार हो जायेगा भारत का प्रधान मंत्री बनना। अरे भाई केवल गांधी परिबार ने देश को आजादी दिलवाई देश के वीर सपूत चंद्र सेखर आजाद और भगत सिंह ,राज गुरु ,और सुभाष चंद्र बोश ,डॉक्टर भीम राव आंबेडकर, और उन जैसे जाने कितने ही महान सहीदो के परिबार भी अभी ज़िंदा होंगे कोई न कोई तो उनके परिबार को आगे बढ़ा ही रहा होगा। उनमे से क्यों नहीं कभी किसी को प्रधानमंत्री का दाबेदार बनाते हो।

 

इस समय हर तरफ देखो एक ही बात चल रही है। की PNB का घोटाला किसकी सरकार मैं हुआ। लेकिन यह सवाल केबल कांग्रेस कर रही है और कोई नहीं क्यूंकि देश की जनता जानती है की PNB का घोटाला किसके राज मैं हुआ और उस समय देश में किस पार्टी का प्रधानमंत्री था। मगर आज कल एक और बात कांग्रेस ने यह कहते हुए तस्बीर दिखाई है की दामोश सम्मलेन के समय नीरव मोदी जो की PNB घोटाले के मुख्य आरोपी है। प्रधानमंत्री के साथ एक तस्बीर मैं नजर आ रहे है। और इसी तस्बीर के साथ कांग्रेस कहती है की नीरव मोदी और प्रधान मंत्री की गहरी दोस्ती भी है।

अब हम आपको यंहा एक तस्बीर दिखा रहे है। जो की कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी की है। और इन पर
5000 करोड़ के नेशनल हेराल्ड घोटाले मामले पर मुख आरोपी घोसित हुए है। और राहुल गाँधी इस समय मात्र 50 हज़ार रुपए की जमानत पर देश बाहर में बाहर घूम रहे है। और इनके खिलाफ लगे आरोपों की जाँच की जा रही है।

 

राहुल गांधी के खिलाफ केबल यही एक मामला नहीं है बल्कि इनके खिलाफ कई और बहुत से मामले भी दर्ज है ,कुछ मामलों मैं कोर्ट के अंदर सुनबाई चल रही है और कुछ मामलो मैं जाँच की जा रही है। अगर मान लो आप ऐसे मैं राहुल गांधी कल के लिए बिदेश भाग गए तब मोदी के बिरोधी प्रधानमंत्री मोदी के साथ बाली राहुल गांधी की तस्बीर को दिखाकर कहेंगे की यह तो प्रधानमंत्री मोदी के मित्र है। और मोदी ने इन्हे भगा दिया देश से।

source
source

नीरव मोदी देश का पैसा लूट कर देश छोड़ कर भाग गया। इतना ही नहीं कांग्रेस के नेताओ का नीरव और नीरव के रिस्तेदारो से घने सम्बन्ध रहे है। और 2013 में राहुल गाँधी खुद उनके एक निजी कार्यक्रम के समय उसमे शामिल हुए थे। जिसमे राहुल गाँधी का रिश्तेदार तहसीन पूनावाला भी है।

soure
source

अब दामोश की बैठक के समय खींची गई फोटो को दिखा कर कांग्रेस और मोदी बिरोधी यह कहने पर तुले हुए है की नीरव प्रधानमंत्री के मित्र है। आप जरा पहले यह तस्बीर देखिये जिसमे दामोश सम्मलेन के समय दर्जनों लोग प्रधानमंत्री मोदी के साथ और उन्ही के साथ नीरव तस्बीर खिंचबा रहा है।

source
source

प्रधानमंत्री जब अपने दाबोश सम्मेलन मैं भाग लेने गए थे। बन्हा उन्होंने भारतीय लोगो से भी मुलाकात की और उसके साथ साथ बन्हा मौजूद ब्यापारियों से भी नरेंद्र मोदी ने मुलाकात की। दर्जनों ब्यापरी उस समय उस सम्मलेन में मौजूद थे और नीरव मोदी भी उन्ही अन्य ब्यापारियों की तरह प्रधानमंत्री मोदी से मिला। और इसी तस्बीर को लेकर कांग्रेस और बिरोधियो का कहना है की प्रधान मंत्री और नीरव मोदी मित्र है।

अब ऐसे में आम जनता के मन में सबाल यह उठ रहा है की अगर कल के लिए राहुल गांधी बिदेश भाग गए तो उस बक्त तो राहुल गांधी के कई सारी तस्बीरे है प्रधान मंत्री से हाँथ मिलते हुए। तब तो क्या कांग्रेस तब भी यह ही कहेंगी की राहुल गांधी तो प्रधान मंत्री के बहुत अच्छे और परम् मित्र थे।

कल के लिए ऐसे आरोप प्रधानमंत्री पर न लगे तो इससे अच्छा पहले ही सरकार को राहुल गांधी का पासपोर्ट जब्त कर लेना चाइये जिससे बह कल के लिए बिदेश न भाग सके क्यूंकि राहुल गांधी पर पहले ही 5000 करोड़ के घोटाले का आरोप लगा हुआ है।

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here