वीडियो : खुद सुनिए मोहन भागवत ने क्या कहा, देशद्रोही कांग्रेस और वामी मीडिया की बातों में न आइये

0
175
source

आज सुबह से ही कुछ कांग्रेसी और बामपंथी सोच रखने बाली मीडिया लोगो को बता रही है की संघ प्रमुख मोहन भगबत ने देश की सेना का अपमान किया है ,उन सभी का मोहन भगबत पर बिना तत्थ्यो के साथ आरोप है की मोहन भगबत ने संघ को सेना से बेहतर बताया है। और इसी कारण मोहन भगबत देश द्रोही है। मोहन भगबत के नाम पर आज सुबह से ही कुछ बामपंथी सोच रखने बाली मीडिया और कांग्रेस सुबह से लोगो को यही बताने पर तुले हुई है। मगर असली सच क्या है यह कोई भी दिखने के लिए तैयार नहीं है। आज हम आपको बही पूरा सच दिखने जा रहे है की आखिर मोहन भागबत ने क्या कहा है और उनके खाने का मकसद क्या है।

हम आपको साबधान करना चाहते है ऐसे लोगो की बातो मैं न आये जो सच है उसे ही समझने की कोसिस की जाए। आप पहले खुद सुन लीजिये एक बार की आखिर सेना के बारे मैं मोहन भागबत ने क्या कहा है। और इसको सुनने के बाद आप खुद अंदाजा लगा सकते है की मीडिया मैं और कांग्रेस किस तरह से झूठ पर झूठ फैला रही है। अब आप इस वीडियो को ध्यान से देखिये की मीडिया ने आपको क्या बताया और असली सच क्या है।

 

अब बात करते है की मीडिया किस तरह से इन लोगो का साथ देती है। मीडिया लोकतंत्र का एक पहिया है जिसे हमेशा सच दिखाना चाइये मगर नहीं पहले मीडिया जगत मैं यह होता था ,की किसी खबर को दिखने से पहले उसके बारे मैं पूरी जानकरी जिताई जाती थी की बह खबर कंही झूठ तो नहीं है मैग आज कल अपने आप को और अपने चैनल या फिर अखबार को बढ़ाने के लिए यह मीडिया किसी भी हद तलक चली जाती है। यह एक सोच का बिषय है। आप ऊपर सुन और देख दोनों चुके है की मोहन भगबत ने असल मैं क्या कहा है सेना के बारे मैं और संघ के बारे मैं। और इसको जानने के बाद आप खुद अंदाजा लगा सकते है की बामपंथी सोच बाले कैसी कैसी बाते फैला रहे है।

 

की मोहन भगबत ने तो सेना का अपमान कर दिया है और मोहन भगबत देश द्रोही है। और इन सब चीजों को देखने के बाद आप लोगो को एक बार फिर से सचेत कर रहे है की इन बामपंथियों के बहकाबे मैं न आये और न ही इनकी कही बातो पर बिस्वास करे पहले खुद देखे फिर आप खुद ही उन सभी बातो पर फैसला ले।

source
source

मोहन भागबत ने सेना की तुलना संघ से नहीं की है बल्कि उनके कहने का मतलब साफ़ है की जरूरत पड़ने पर हम देश के लिए अब तीन दिन के अंदर सेना तैयार कर सकते है। यानी की उनके कहने का तातपर्य साफ़ है की जरूरत पड़ने पर स्वयंसेबक तीन दिन मैं देश की सेबा करने के लिए हमेशा तैयार रहेंगे। यह है साफ़ बयान मोहन भागबत के और यह बामपंथी और सेक्युलर मीडिया पता नहीं आप सभी लोगो को क्या क्या बताती रहती है। इन कोंग्रेसियो के चक्कर मैं आ कर देश की पिछले इतने सालो से क्या हालत हुई है यह अब किसी से भी छुपा हुआ नहीं है। संघ प्रमुख ने कुछ और कहा और इन बिकाऊ मीडिया और कोंग्रेसियो ने आप सभी तलक उसका झूठा मतलब निकाल कर आप लोगो तलक पता नहीं क्या क्या खबरे पहुंचा रहे है। ऐसे लोगो से साबधान

REGISTER करें और पायें प्रत्येक Educational and Interesting Post, अपने EMail पर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here