X

शिवाजी महाराज शेर शायरी व स्टेटस मराठी व हिंदी – Chhatrapati Shivaji Maharaj Shayari and Status Hindi and Marathi

Advertisement
Advertisement

छत्रपति शिवाजी महाराज एक महान देशभक्त, राष्ट्र निर्माता एवं कुशल प्रशासक के साथ वह बहुत साहसी एवं बुद्धिमान भी थे। शिवाजी को हम शिवाजी राजे भोसले के नाम से भी जानते हैं। शिवाजी का जन्म 19 फरवरी 1630 को शिवनेरी दुर्ग महाराष्ट्र में हुआ था। शिवाजी के पिताजी का नाम शाहजी भोंसले व माता का नाम जीजाबाई था।

Advertisement

आज यहां हम शिवाजी महाराज शेर शायरी व स्टेटस हिंदी व मराठी में लेकर आये हैं. आप Shivaji Maharaj Shayari and Status Hindi and Marathi को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें.

शिवाजी महाराज शेर शायरी हिंदी

एक पुरुषार्थी भी,
एक विद्वान के सामने झुकता है।
क्योकी पुरुर्षाथ भी विद्या से ही आती है।

“ओम” कहने से मन को शक्ति मिलती है,
“साईं” कहने से मन को शक्ति मिलती है,
“राम” बोलने से पापों से मुक्ति मिलती है,
“जय शिवराय” की बात
हमें सौ बाघों की ताकत मिलती है …

महाराष्ट्र के मराठा राजा,
कह रहा है सब मेरे अपने,
आज भी, गाना बजाने वाले गाते हैं,
लपेट लो
वह एकमात्र “राजा शिव छत्रपति” हैं

अपने आत्मबल को जगाने वाला,
खुद को पहचानने वाला,
और मानव जाति के कल्याण की सोच रखने वाला,
पूरे विश्व पर राज्य कर सकता है।

प्रतिशोध मनुष्य को जलाती रहती है,
संयम ही प्रतिशोध को काबू करने का उपाय होता है।

अंगूर को जब तक नहीं पेरो वो मीठी मदिरा नही बनती,
वैसे ही मनुष्य जब तक कष्ट मे पिसता नही,
तब तक उसके अन्दर की सर्वौत्तम प्रतिभा बाहर नही आती।

अखंड हिंदुस्तान के आराध्य देवी और प्रेरणादायक स्थान,
अमीर छत्रपति शिवाजी राजे महाराज को,
त्रि-मन मुजारा …
सभी शिव भक्तों को,
जय शिवा जी … !!

बहादुरी मेरी आत्मा है!
विचार और विवेक मेरी पहचान है!
क्षत्रिय मेरा धर्म है!
छत्रपति शिवराय मेरे भगवान हैं!
हाँ मैं मराठी हूँ!
जय शिवराय !!

Advertisement

कोई भी कार्य करने से पहले उसका परिणाम सोच लेना हितकर होता है;
क्योकी हमारी आने वाली पीढी उसी का अनुसरण करती है।

सर्वप्रथम राष्ट्र, फिर गुरु, फिर माता-पिता, फिर परमेश्वर।
अतः पहले खुद को नही राष्ट्र को देखना चाहिए।

जब लक्ष्य जीत की हो,
तो हासिल करने के लिए कितना भी परिश्रम,
कोई भी मूल्य , क्यो न हो उसे चुकाना ही पङता है।

बिजली की तलवार की तरह,
हिंदुस्तान ने छाती पीट ली,
अफ्ज़खान बैग में बाघ के नाखून
मुट्ठी भर मावल के साथ हजारों शैतान भाग गए!
जब वे स्वर्ग में चढ़े, तब देवों ने उन्हें प्रणाम किया।
उन में से एक “मरदा मराठा शिवबा” बन गया …

जरुरी नही कि विपत्ति का सामना,
दुश्मन के सम्मुख से ही करने मे,
वीरता हो। वीरता तो विजय मे है।

जो व्यक्ति स्वराज्य और परिवार के बीच स्वराज्य को चुनता है
वही एक सच्चा नागरिक होता हैं।

वे ही जीवित थे
वह एक जीवित महाराष्ट्र था
लेकिन अपने ही परिवार को भूल जाना
जनता से हाथ मिलाते हुए।
यह “आपका शिव” था
जय शिवराय

शिवाजी महाराज शायरी मराठी

झनझविला भगव्याच्या समान तुम्ही,
जागविले मरगळलेले मर्द मावळे तुम्ही,
घडविले श्रीं चे स्वराज्य तुम्ही,
ऐसे श्रीमंत योगी अखंड महाराष्ट्राचे कुलदैवत,
श्री राजा शिवछञपती तुम्ही… !!

लखलख चमचम तळपत होती
शिवबाची तलवार,
महाराष्ट्रला घडविणारे तेचं खरे शिल्पकार…
“श्री राजा शिवछञपती”
यांच्या चरणी मानाचा ञिवार मुजरा
जय शिवराय, जय महाराष्ट्र

मराठा राजा महाराष्ट्राचा
म्हणती सारे माझा – माझा
आजही गौरव गिते गाती
ओवाळूनी पंचारती
तो फक्त “राजा शिवछत्रपती”
|| जय जिजाऊ ||
|| जय शिवराय ||

Advertisement

सुर्य नारायण जर उगवले नसते तर..
आकाशाचा रंगचं समजला नसता..
जर छञपती शिवाजी राजे जन्मले नसते तर..
खरचं हिंदु धर्माचा अर्थच समजला नसता..
हे हिंदु प्रभो शिवाजी राजा

शिवाजी महाराज स्टेटस मराठी

हवेत झेप घ्यायची असेल तर पक्षासारखं बळ हवं …
दरीत झेप घ्यायची असेल तर आकाशाएवढं धाडस हवं…
पाण्यात उडी घ्यायची असेल तर माशा सारखी कला हवी …
अन साम्राज्य निर्माण करायचे असेल
तर “शिवबाचच” काळीज हवं…….!

राजाधीराज छत्रपती शिवराय दुर्गपती गजअश्वपती भूपती प्रजापती सुवर्णरत्नंश्रीपती अष्टावधान जागृत अष्टप्रधान वेष्टीत न्यायालंकार मंडीत शस्त्रास्त्रशांस्त्र पारंगत राजनीती धुरंधर पौढप्रताप पुरंदर क्षत्रीयकुलावतंस सिँहासनाधीश्वर राजाधिराज महाराज श्रीमंत श्री छत्रपती श्री शिवाजी महाराज कि जय…
छत्रपती शिवाजी महाराजच्या जयंतीच्या,
सर्व मित्र मैत्रिणीँना हार्दिक शुभेच्छा..

जागवल्याशिवाय जाग येत नाही
ओढल्याशिवाय काडी पेटत नाही तसे,
”छत्रपतींचे” नाव घेतल्याशिवाय
माझा दिवस उगवत नाही

उम्मीद है कि आपको शिवाजी महाराज शेर शायरी पसंद आयी होंगी, आप अपने दोस्तों व रिश्तेदारों को इन्हे फेसबुक व व्हाट्सएप की मदद से भेज सकते है।

Advertisement
Sadhana Pal: मेरा नाम साधना पाल है , मुझे देश और दुनिया के बारे में लिखना और पढ़ना अच्छा लगता हैंं. और हमेशा नया सीखने की कोशिश करती रहती हूं.
Advertisement